Indian Premier League 2021: कोरोना (COVID-19) के बढ़ते मामलों के बीच राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) ने ऐसा कदम उठाया है, जिसकी सभी तारीफ कर रहे हैं. गुजरात के 29 वर्षीय जयदेव उनादकट को राजस्थान ने पिछले साल आईपीएल नीलामी में 3 करोड़ रुपये में खरीदा था. अब इस खिलाड़ी ने अपनी आईपीएल सैलरी का 10% कोरोना मरीजों को दान देने का फैसला लिया है, जिन्हें इस वक्त मेडिकल सपोर्ट की जरूरत है. फैंस जयदेव उनादकट के इस कदम की जमकर तारीफ कर रहे हैं.Also Read - सऊदी अरब में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले, भारत समेत इन देशों में यात्रा करने पर लगा प्रतिबंध

कोरोना संकट से जूझ रहे भारत में ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर्स, दवाओं, हॉस्पिटल में बैड, वेंटिलेटर की कमी है. ऐसे में जयदेव उनादकट ने मदद को हाथ बढ़ाए हैं. उनादकट ने ट्वीट किया, ‘‘मैं अपने आईपीएल सैलरी का दस फीसदी जरूरतमंदों को चिकित्सा सहायता के लिये दूंगा. मेरा परिवार यह सुनिश्चित करेगा कि मदद सही हाथों में पहुंचे. जय हिंद.’’ Also Read - अब सऊदी अरब नहीं जा पाएंगे इन 15 देशों के टूरिस्ट, जानिए वजह

Also Read - कोरोना से हुई मौत के विवादित आंकड़े का मुद्दा WHO के सामने उठाएगा भारत

उनादकट ने कहा, ‘‘हमारा देश संकट के दौर से गुजर रहा है. हम किस्मतवालें हैं कि क्रिकेट खेल पा रहे हैं. अपनों को खोना काफी कष्टदायक होता है. अपनों को जिंदगी के लिये जूझते देखना काफी दुखद है. मैं दोनों से गुजर चुका हूं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह नहीं कहता कि इस समय क्रिकेट खेलना सही है या गलत लेकिन इन हालात में परिवार और दोस्तों से अलग रहना कठिन है. मुझे लगता है कि खेल थोड़े समय के ही लिये खुशियां बिखेरता है. जिन्होंने अपनों को खोया, मेरी संवेदनायें उनके साथ है. ईश्वर आपको शक्ति दे.’’ उन्होंने सभी से कोरोना का टीका लगवाने और इसके खिलाफ लड़ाई में योगदान देने की अपील की.