इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में पिछले सीजन अपने बुरे परफॉर्मेंस के चलते प्ले ऑफ से बाहर होने वाली चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की टीम इस बार अपनी पूरी लय में दिख रही थी. इस सीजन एमएस धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली इस टीम ने 7 मैच खेलकर 5 में जीत दर्ज की थी और 10 अंकों के साथ वह दूसरे स्थान पर थी. टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने इसका श्रेय टीम के नए विदेशी ऑलराउंडर खिलाड़ी मोईन अली (Moeen Ali) को दिया. पार्थिव ने कहा कि वह गेम चेंजर रहे.Also Read - रोहित शर्मा उन खिलाड़ियों का ज्यादा समर्थन करते हैं जो फार्म में नहीं होते : पार्थिव पटेल

पार्थिव ने इसके साथ-साथ टीम के कप्तान एमएस धोनी की कप्तानी की भी जमकर प्रशंसा की. हालांकि देश में कोविड- 19 की दूसरी लहर के गंभीर रूप लेने के बाद इस लीग को तब अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करना पड़ा, जब टूर्नामेंट की चार टीमों में कोविड- 19 के कुछ मामले सामने आने लगे थे. लेकिन जब तक यह लीग खेली गई इसमें इंग्लैंड के ऑलराउंडर बल्लेबाज मोईन अली का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा. वह पहली बार सीएसके लिए खेल रहे थे. Also Read - सीएसए टी20 लीग में मेंटोर बनेंगे तो MS Dhoni को छोड़ना होगा आईपीएल : BCCI

मोईन ने इस सीजन में 6 मैचों में 34.33 के औसत से 206 रन बनाए और 5 विकेट लिए. पार्थिव ने कहा, ‘मेरे ख्याल से मोईन सीएसके के लिए गेम चेंजर रहे. वह ओपनिंग करने भी उतर सकते थे और नंबर 3 पर भी खेल सकते थे. उन्होंने अपनी लय बरकरार रखी. उनको इस तरह खेलते देखना सुखद था.’ उन्होंने कहा, ‘अच्छी तरह वापसी करना महत्वपूर्ण था. सीएसके के साथ यही हुआ. ओपनरों ने काफी अच्छा किया लेकिन मध्यक्रम महत्वपूर्ण था.’ Also Read - बहुत-बहुत खराब है MS Dhoni का विकेटकीपिंग रिकॉर्ड, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान के बड़बोले बोल

पार्थिव ने धोनी की कप्तानी को भी श्रेय दिया और कहा कि धोनी ने बल्लेबाजी क्रम का निर्णय लिया और मोईन को तीसरे नंबर पर भेजना महत्वपूर्ण रहा. पार्थिव ने कहा, ‘सभी को लगा था कि सुरेश रैना नंबर-3 पर उतरेंगे, लेकिन इस स्थान पर मोईन उतरे. धोनी को पता था कि क्या परिवर्तन करने हैं. सभी को लगा कि धोनी नंबर 4 और 5 पर आएंगे लेकिन वह निचले क्रम पर उतरे.’