चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के 14वें सीजन के 30वें मुकाबले से बाहर रहे मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के खिलाफ होने वाले अगले मैच का हिस्सा बनेंगे। टीम को कोच महेला जयवर्धने (Mahela Jayawardene) के खुद इस बयान की पुष्टि की है।Also Read - T20 World Cup 2021, SL vs NAM Live Streaming: मोबाइल पर इस तरह देखें विश्व कप मैच

रोहित की गैरमौजूदगी में विंडीज बल्लेबाज कीरोन पोलार्ड की अगुवाई में खेलने उतरी मुंबई टीम को चेन्नई के खिलाफ 157 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 20 रन से हार का सामना करना पड़ा। Also Read - T20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया की खराब फॉर्म का कोई मतलब नहीं होगा: मिशेल स्टार्क

मैच के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जयवर्धने ने कहा, “यूके से वापस आने के बाद रोहित बल्लेबाजी और रनिंग कर रहे थे; हमें लगा कि उसे कुछ और दिन के आराम की जरूरत है इसलिए वो अगला मैच खेलने के लिए फिट होगा।” Also Read - T20 World Cup 2021 Live Streaming: कब और कहां देखें राउंड 1 में ओमान vs पापुआ न्यू गिनी, पहला मैच

कोच ने रोहित के साथ साथ ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के बारे में जानकारी दी जो कि पहले मैच में नहीं खेले थे। उन्होंने कहा, “हार्दिक ट्रेनिंग कर रहा था, उसे थोड़ी चोट थी इसलिए हमने थोड़ी सावधानी दिखाई और उसे भी कुछ अतिरिक्त दिन दिए, कोई गंभीर बात नहीं है।”

चेन्नई के खिलाफ मिली हार पर उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि पिच कुछ खास नहीं थी। ईमानदारी से कहूं तो दूसरी पारी में विकेट बहुत अच्छा था। एक-दो गेंदे थोड़ा रुककर आ रही थी। मैं मानता हूं कि हमने सॉफ्ट डिसमिसल के जरिए कई विकेट खोए। हमें जरूरत थी कि कोई पारी की जिम्मेदारी उठाए और आखिर तक बल्लेबाजी करे, जो कि नहीं हुआ। यहीं अंतर था, सीएसके के लिए ये काम रूतुराज गायकवाड़ ने किया।”

88 रनों की पारी खेलने वाले गायकवाड़ की तारीफ करते हुए श्रीलंकाई दिग्गज ने कहा, “हालांकि सीएसके ने विकेट खोए थे लेकिन एक सेट बल्लेबाज (गायकवाड़) था जो कि आखिर तक खेला। हमने स्थिति को जैसा संभाला वो निराशाजनक था।”

कोच जयवर्धने ने आगे कहा, “पहले चरण में हमने चेन्नई में संघर्ष किया था क्योंकि हम हालात के हिसाब से खुद को ढाल नहीं पाए थे। यहां भी, ये बेहद आसान विकेट नहीं था लेकिन शायद थोड़े प्रयास की जरूरत थे। मैं इसे खेल की समझ और जिम्मेदारी उठाने की बात कहूंगा। मैदान पर किए जाने वाले प्रयास पर हमें काम करने की जरूरत है।”