पंजाब किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स (PBKS vs KKR) के बीच सोमवार को खेले गए मैच के दौरान युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) ने एक ऐसा हैरतअंगेज कैच पकड़ा, जिसने देखने वालों को हैरान कर दिया. रवि के इस कैच की जमकर तारीफ हो रही है और इस आईपीएल का बेस्ट कैच बताया जा रहा है. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) ने इसे आईपीएल इतिहास का सबसे बेहतरीन कैच करार दिया है. पीटरसन ने ट्वीट कर लिखा, ‘हर आईपीएल टूर्नामेंट में सबसे बेहतरीन कैच.’Also Read - केविन पीटरसन की BCCI से अपील, इस तेज गेंदबाज को मिले भारत-इंग्‍लैंड टेस्‍ट मैच में जगह

कोलकाता की टीम यहां 124 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही थी. इस दौरान अपने दोनों ओपनरों के विकेट वह सस्ते में ही गंवा चुकी थी और अभी सुनील नरेन (Sunil Narine) क्रीज पर आए ही थे कि रबि बिश्नोई ने बेहतरीन कैच पकड़कर उनकी पारी का अंत कर दिया. यह बिल्कुल ही नामुमकिन सा कैच था, जिसकी किसी को भी उम्मीद नहीं थी. Also Read - IPL 2022- Jos Buttler ने अपनी पारियों से IPL को अविश्वसनीय बना दिया है: Kevin Pietersen

Also Read - IPL 2022: मैंने टिकने के बाद सैम बिलिंग्स को कहा- अब हिट करने जा रहा हूं, कामयाब होकर अच्छा लगा: Andre Russell

अर्शदीप सिंह तीसरा ओवर फेंक रहे थे और इसकी अंतिम गेंद पर ही नरेन को डीप मिड विकेट की ओर एक ऊंचा शॉट खेला. गेंद सही से मिडल नहीं हुई थी लेकिन फिर भी यह चौके के रूप में जाती दिख रही थी क्योंकि वहां कोई फील्डर तैनात नहीं था. लेकिन डीप स्केयर लेग में तैनात रवि बिश्नोई गेंद पर ही आंखें गढ़ाए तेजी से दौड़ते चले आए और उन्होंने हवा में ही छलांग लगा दी.

वह कैच पकड़ने के बाद भी कुछ पल हवा में ही तैरते दिखाई दिए और उन्होंने गेंद को अपने दोनों हाथों में थामे रखा. इस बीच केकेआर को 17 रन के स्कोर पर यह तीसरा झटका लग चुका था. नरेन अपना खाता भी नहीं खोल पाए और उन्हें निराश होकर डग आउट में लौटना पड़ा. यह विकेट भले अर्शदीप सिंह के खाते में गया लेकिन इस पर पूरी तरह से बिश्नोई ने अपना नाम लिखा.

पंजाब की पूरी टीम इस दर्शनीय कैच पर फूली नहीं समा रही थी और पंजाब के खिलाड़ी बिश्नोई को इस अद्भुत और हैरतअंगेज कैच के लिए गेल लगाकर बधाई दे रहे थे. मैच के बाद कप्तान केएल राहुल ने भी इस कैच की तारीफ की. उन्होंने कहा कि यह लाजवाब कैच था. उन्होंने कहा कि जब टीम के पास जॉन्टी रोड्स जैसा कोच हो, जो खिलाड़ियों को हमेशा ही ऐसी मुश्किल परिस्थितियों के लिए तैयार करते हैं. उसमे ऐसा कैच पकड़ना बताता है कि खिलाड़ी किस हद तक तैयार हो रहे हैं.