सहायक कोच प्रवीण आमरे के साथ दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के प्री-सीज़न कैंप की देखरेख कर रहे पूर्व क्रिकेटर अजय रात्रा (Ajay Ratra) का मानना ​​है कि टीम के पास यूएई में शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के दूसरे चरण से पहले लय में वापस आने के लिए पर्याप्त समय है।Also Read - IPL 2021, RCB vs CSK: 'ओस' ने जिताया CSK को मुकाबला, कप्तान MS Dhoni ने खुद कर दिया खुलासा

रात्रा ने दिल्ली कैपिटल्स की एक विज्ञप्ति में कहा, “ये पूरी तरह से एक अलग सीजन है, आम तौर पर पूरा टूर्नामेंट एक साथ होता है। और पहले हाफ में हमारी लय अच्छी थी। अब जब हमें एक ब्रेक मिला है, तो हमें नए सिरे से शुरुआत करनी होगी, और इसलिए हमारी फ्रेंचाइजी ने इस शिविर का आयोजन किया है।” Also Read - IPL 2021, DC vs RR Live Score Updates: राजस्थान ने जीता टॉस, पहले गेंदबाजी का फैसला

पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा, “हमारे पास प्रतियोगिता के पहले चरण की लय में वापस आने के लिए पर्याप्त समय है, और सौभाग्य से, हमारे अधिकांश खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हैं।” Also Read - IPL 2021, RCB vs CSK: बल्लेबाजों से प्रभावित Eric Simons, सीएसके की जीत पर कही दिल छू लेने वाली बात

ये पूछे जाने पर कि क्या लंबे अंतराल से टीम की लय टूटेगी, रात्रा ने कहा, “टेस्ट क्रिकेट में भी कभी-कभी लंच ब्रेक के बाद लय हासिल करना मुश्किल हो जाता है। इसलिए ब्रेक से फर्क तो पड़ता है।”

उन्होंने कहा, “हालांकि, जैसा कि मैंने पहले कहा, हमारे पास अभी भी समय है, और हमारे ज्यादातर प्रमुख खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हैं, इसलिए वो पहले से ही अच्छी लय में हो सकते हैं।”

रात्रा ने आगे कहा, “वहीं दूसरी तरफ, जो लंबे ब्रेक से वापस आ रहे हैं, वो इस कैंप का इस्तेमाल लय में वापस आने के लिए कर रहे हैं। हम अपने घरेलू खिलाड़ियों के साथ ज्यादा समय बिता रहे हैं, और यहां अच्छी सुविधाएं हैं, इसलिए हमें उम्मीद है कि हम जल्द ही अपनी लय पा लेंगे।”

ये पूछे जाने पर कि क्या कोचिंग स्टाफ दिल्ली कैपिटल्स के मुख्य कोच रिकी पोंटिंग और गेंदबाजी कोच जेम्स होप्स के संपर्क में है, जो अभी टीम में शामिल नहीं हुए हैं, रात्रा ने कहा, “हां, हम रिकी और होप्स के संपर्क में हैं।

उन्होंने कहा, “हम दिल्ली कैपिटल्स मैनेजमेंट के साथ नियमित रूप से जूम कॉल करते हैं, और कोचिंग स्टाफ में से हर कोई इसमें शामिल होता है, जिसमें हमारे स्ट्रेंथ और कंडीशनिंग कोच रजनीकांत शिवगनम, फिजियो धनंजय कौशिक और पैट्रिक फरहार्ट शामिल हैं।”

रात्रा ने आगे कहा, “हम आम तौर पर चर्चा करते हैं कि हमें किस तरह के ट्रेनिंग सेशन आयोजन करने की जरूरत है। साथ ही, जब ये शिविर शुरू हुआ तो प्रवीण भाई (प्रवीण आमरे) ने रिकी और सभी कोचों के सामने पूरी योजना पेश की थी। इसी तरह, मैंने इस शिविर के लिए तैयार फील्डिंग की योजनाओं को सभी के साथ साझा किया।”