आईपीएल 2020 के लिए नीलामी की प्रक्रिया अगले महीने 19 दिसंबर को कोलकाता में होनी है. इससे पहले सभी फ्रेंचाइजी ने आईपीएल गवर्निंग बॉडी को इस बात की जानकारी दे दी है कि कौन से खिलाड़ी वो रिटेन करना चाहते हैं और किन खिलाड़ियों को उन्‍होंने दोबारा नीलामी की प्रक्रिया के लिए रिलीज कर दिया है.

किंग्‍स इलेवन पंजाब का दो साल तक नेतृत्‍व करने वाले रविचंद्रन अश्विन अब ट्रेड के माध्‍यम से दिल्‍ली कैपिटल्‍स का हिस्‍सा बन गए हैं. राजस्‍थान रॉयल्‍स के कप्‍तान रहे अजिंक्‍य रहाणे अब दिल्‍ली फ्रेंचाइजी से जुड़ चुके हैं. इसी तरह दिल्‍ली के डेल स्‍टेन अब मुंबई इंडियंस का हिस्‍सा बन गए हैं.

आईये हम आपको आईपीएल के कुछ ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं जिन्‍हें इस बार खरीददार मिल पाना थोड़ा मुश्किल नजर आ रहा है.

रॉबिन उथप्‍पा

Robin Uthappa © Twitter

Robin Uthappa © Twitter

कोलकाता की टीम साल 2014 में आईपीएल का खिताब जीतने में कामयाब रही तो इसका श्रेय काफी हद तक रॉबिन उथप्‍पा को जाता है. इस सीजन में सर्वाधिक रन बनाकर ऑरेंज कैप पर कब्‍जा करने वाले उथप्‍पा का कुल मिलाकर आईपीएल सफर शानदार रहा है.

उथप्‍पा विभिन्‍न फ्रेंचाइजी के साथ खेल चुके हैं, लेकिन वो सबसे ज्‍यादा कामयाब कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए रहे. पिछले दो सीजन से वो लगातार अच्‍छा प्रदर्शन करने में विफल रहे हैं। जिसके चलते इस बार उन्‍हें कोलकाता ने रिटेन करने की जगह नीलामी के लिए छोड़ दिया है. दो करोड़ के बेस प्राइज वाले उथप्‍पा को इस बार नया खरीददार मिलने में दिक्‍कतें हो सकती हैं.

यूसुफ पठान

Yusuf Pathan Kane Williamson © Twitter

Yusuf Pathan with Kane Williamson © Twitter

साल 2008 में आईपीएल की शुरुआत हुई तो राजस्‍थान रॉयल्‍स को खिताब तक पहुंचाने में यूसुफ पठान की भूमिका बेहद अहम रही. पठान टीम के लिए फिनिशर की भूमिका बेहद अच्‍छे से निभाने के लिए जाने जाते हैं. साथ ही गेंदबाजी में भी उनकी भूमिका अहम रहती है.

कोलकाता नाइट राइडर्स को साल 2012 और 2014 में विजेता बनाने में यूसुफ पठान की भूमिका अहम रही है. हालांकि पिछले कुछ सालों से वो न तो बल्‍ले से कमाल दिखा पा रहे हैं और न ही उनकी गेंदबाजी उतनी कारगर साबित हो रही है.
हैदराबाद ने यूसुफ पठान को रिलीज कर दिया है. ऐसे में संभव है कि भाई इरफान पठान की तरह यूसुफ को भी इस बार कोई खरीददार न मिले.

डेविड मिलर

David Miller © IANS

David Miller © IANS

तीन करोड़ की भारी भरकम रकम खर्च कर किंग्‍स इलेवन पंजाब ने साउथ अफ्रीका के विस्‍फोटक बल्‍लेबाज डेविड मिलर को अपनी टीम में शामिल किया था। आईपीएल 2019 में मिलर अपनी प्रतिभा के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए। उन्‍होंने 10 मैचों में केवल 213 रन बनाए, जिसके चलते पंजाब ने उन्‍हें रिलीज कर दिया है। इस बात की संभावनाएं प्रबल हैं कि मिलर को नीलामी के दौरान कोई खरीददार न मिले।

टिम साउदी

Tim Southee @ Twitter

Tim Southee @ Twitter

तेज गेंदबाज टिम साउदी यूं तो न्‍यूजीलैंड की टी20 टीम के उपकप्‍तान हैं और इंग्‍लैंड के खिलाफ हाल ही में खत्‍म हुई पांच मैचों की टी20 सीरीज में उन्‍होंने शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन भारत की पिचों पर वो इतने कामयाब नहीं रहे हैं.

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने बेस प्राइज एक करोड़ रुपये में साउदी को खरीदा था, लेकिन वो विराट कोहली की टीम के लिए डेथ ओवर्स में रनों की रफ्तार को थामने में पूरी तरह से विफल रहे हैं. नतीजतन आरसीबी बीते सीजन में कुछ खास अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर पाई है.

साउदी को आरसीबी ने रिलीज कर दिया है. ऐसे में इस बात की संभावना कम है कि साउदी को एक करोड़ खर्च कर अपनी टीम में शामिल करे.

डेल स्‍टेन

Dale Steyn © Twitter

Dale Steyn © Twitter

डेल स्‍टेन का चोटों से पुराना नाता रहा है. बीते सीजन में वो बेंगलुरू के लिए महज दो ही मैच खेल पाए और चोट के चलते बीच में ही वापस अपने देश लौट गए थे. विश्‍व कप के दौरान भी वो चोट के चलते ही बीच में ही वापस लौटे थे।

साउथ अफ्रीका ने भारत दौरे पर भी डेल स्‍टेन को टी20 टीम में जगह नहीं दी थी। ऐसे में 36 वर्षीय स्‍टेन को आईपीएल 2020 के लिए आसानी से खरीददार मिल जाएगा, इस बात की संभावना कम है।