आईपीएल 2020 के लिए ऑक्‍शन के दौरान दूसरे राउंड में ऑस्‍ट्रेलिया के स्‍टार तेज गेंदबाज पैट कमिंस पर सबसे बड़ी बोली लगी. कोलकाता नाइट राइडर्स ने उन्‍हें 15.50 करोड़ रुपये खर्च कर अपनी टीम में शामिल किया. वो आईपीएल के इतिहास में सबसे मेहंगे विदेशी खिलाड़ी बन गए हैं.Also Read - 4 महीने के ब्रेक के बाद IPL- भारत के घरेलू खिलाड़ियों के लिए चुनौती होगी मैच फिटनेस: Chris Morris

राउंड-2 में केवल ऑलराउंडर्स को शामिल किया गया था. कुल सात खिलाड़ियों पर बोली लगी, जिसमें से तीन खिलाड़ी नहीं बिक सके. युसूफ पठान को किसी भी फ्रेंचाइजी नें नहीं खरीदा. Also Read - Glenn Maxwell को भरोसा- इस बार ऑस्ट्रेलिया ही बनेगा टी20 वर्ल्ड कप चैंपियन, बोले- IPL तैयारी के लिए अच्छा मंच

आईपीएल 2020 ऑक्‍शन लाइव Also Read - पंजाब किंग्‍स से RCB में आते ही एकाएक निखर गई Glenn Maxwell की बल्‍लेबाजी, पार्थिव पटेल ने बताया कारण

खास बात यह है कि पैट कमिंस को अपनी टीम में लाने के लिए रॉयल चैलेंजर्स बैंग्‍लोर और और दिल्‍ली कैपिटल्‍स के बीच अंत तक मारा मारी देखने को मिल, लेकिन अंतिम समय में कोलकाता ने बाजी मार ली.

दो करोड़ के बेस प्राइज वाले ऑस्‍ट्रेलिया के स्‍टार ऑलराउंडर ग्‍लेन मैक्‍सेवल को पंजाब ने लंबी लड़ाई के बाद 10.75 करोड़ रुपये खर्च कर अपनी टीम में शामिल किया.

साउथ अफ्रीका के ऑलराउंडर क्रिस मोरिस पर भी भारी भरकम बोलियां लगी. डेढ़ करोड़ के बेस प्राइज वालेे मोरिस को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम 10 करोड़ रुपये खर्च कर अपनी टीम में शामिल करने में कामयाब रही.

आईपीएल 2020 ऑक्‍शन राउंड-1

इंग्‍लैंड के सैम कर्रन का बेस प्राइज एक करोड़ रुपये था, लेकिन चेन्‍नई ने उनपर 5.5 करोड़ रुपये का दांव चला. इंग्‍लैंड के ऑलराउंडर क्रिस वोक्‍स का बेस प्राइज एक करोड़ रुपये था. दिल्‍ली ने उन्‍हें 1.5 करोड़ रुपये खर्च कर अपनी टीम में जगह दी.

न्‍यूजीलैंड के ऑलराउंडर कॉलिन डी ग्रैंडहोम, भारतीय ऑलराउंडर स्‍टुअर्ट बिन्‍नी और यूसुफ पठान को किसी भी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा.