भारतीय टेस्ट टीम के सफल पेस अटैक के सीनियर तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने अपने करियर का सबसे पसंदीदा मैच चुना है। हालांकि ये भारतीय तेज गेंदबाज 2014 में लॉर्डस टेस्ट में लिए गए सात विकेट और नवंबर 2019 में खेले गए टीम के पहले दिन-रात टेस्ट मैच के बीच तुलना नहीं कर सका। इशांत ने कहा कि ये दोनों ही मैच उनके लिए बराबर हैं।Also Read - IND vs SA: Virat Kohli ने तोड़ा Sachin Tendulkar का रिकॉर्ड, विदेशों में सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय

इशांत का कहना है कि 2014 में लॉर्डस टेस्ट में सात विकेट लिए थे जबकि कोलकाता के ईडन गार्डन्स में बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए। भारत के पहले डे-नाइट टेस्ट मैच में उन्होंने पांच विकेट चटकाए थे, जो कि 12 साल बाद घरेलू मैदान पर उनका पहला पांच विकेट हॉल था। Also Read - कप्तानी से हटने के बाद अब आपको Virat Kohli का और भी उम्दा रूप देखने को मिलेगा: Dale Steyn

आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में इशांत ने कहा, “दोनों टेस्ट मैच की यादें मेरे लिए एकसमान है। लॉडर्स में लिए गए सात विकेट निश्चित रूप से कुछ ऐसा है, जिसे मैं भूल नहीं सकता। गुलाबी गेंद में भी लिए गए पांच विकेट को मैं कभी नहीं भूल सकता क्योंकि 12 साल बाद (घर) में मैंने पांच विकेट लिए थे।” Also Read - अब Sourav Ganguly समेत Jay Shah की होगी BCCI से छुट्टी!

गौरतलब है कि दोनों ही मैचो में इशांत का स्पेल मैचविनिंग साबिक हुआ था। इशांत की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने 28 साल के बाद 2014 में लॉर्डस में इंग्लैंड के खिलाफ ऐतिहासिक जीत हासिल की थी। वहीं, डे-नाइट टेस्ट में भारत ने बांग्लादेश को मात दी थी। इशांत ने उस मैच में 22 रन देकर पांच विकेट हासिल किए थे। ईशांत ने 2007 के बाद से पहली बार घर में पांच विकेट लिया था।