पर्थ: भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में नो बॉल की बात भूल चुके हैं, लेकिन स्थानीय मीडिया में अब भी उनका इसको मजाक उड़ाया जा रहा है. शनिवार को दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन का खेल समाप्त होने पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब उनसे इस बारे में सवाल किया गया तो इशांत ने ऑस्ट्रलियाई मीडिया को आड़े हाथों लिया. इशांत ने कहा कि नो बॉल की हमसे ज्यादा चिंता मीडिया को हो रही है. Also Read - ‘कंगारू गेंदबाज ने मेरे ओवर में ठोक दिए थे 30 रन, मैं फूट-फूट कर रोया और…’

Also Read - CA ने ‘दादा’ की बात मानने से किया इनकार, टीम इंडिया को AUS में पूरा करना होगा दो सप्‍ताह का पृथकवास

‘फ्रंट-फुट नो बॉल’ की चर्चा पर ऑस्ट्रेलियाई मीडिया को आड़े हाथों लिया. इशांत ने पहले टेस्ट में कुछ ‘फ्रंट-फुट नो बॉल’फेंकी थी, जिस पर मैदानी अंपायरों का ध्यान नहीं गया. इसके कारण भारत दो मौकों पर विकेटों से भी महरूम रह गया, लेकिन मेजबान देश को यह बात पसंद नहीं आई. Also Read - IND vs AUS, Live Streaming: जानें कब और कहां देखें राजकोट वनडे मुकाबला

इशांत ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, ‘‘शायद ऑस्ट्रेलियाई मीडिया को इस सवाल का जवाब देना चाहिए, मुझे नहीं. मैं इतने लंबे समय से क्रिकेट खेल रहा हूं. इस तरह की चीजें होती हैं. आप मुनष्य ही हो, आपसे गलती हो सकती है. मैं इसके बारे में जरा भी चिंतित नहीं था.’’

AUSvsIND: खराब फॉर्म में चल रहे राहुल से रूठी किस्मत, पर्थ में बने हेजलवुड के शिकार

उन्होंने कहा कि दूसरे टेस्ट में विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे का जवाबी हमला अहम रहा जिसके बूते भारत ने ऑस्ट्रेलिया के पहली पारी में 326 रन के जवाब में तीन विकेट पर 172 रन बना लिए. इशांत ने कहा, ‘‘जब भी विराट बल्लेबाजी कर रहा होता है तो हमें भरोसा रहता है. हमने दिन का अंत अच्छी तरह किया. उम्मीद है कि ये दोनों इसी तरह बल्लेबाजी करते रहेंगे. मैच में इस समय संतुलन बना हुआ है. उम्मीद है कि रविवार को हम पहले सेशन में दबदबा बनाए रखेंगे. ’’

पर्थ टेस्ट: कोहली-रहाणे के अर्धशतक से संभली टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया से 154 रन पीछे

कोहली के नाबाद 82 रन और अजिंक्य रहाणे के नाबाद 51 रन की बदौलत भारत ने मुरली विजय (शून्य) और लोकेश राहुल (02) के विकेट सस्ते में गंवाने के बाद वापसी की. उन्होंने कहा, ‘‘रहाणे ने तेजी से 20-30 रन बनाए और उस समय इनकी सचमुच काफी जरूरत थी. अगर वे डिफेंसिव होकर खेलते तो शायद ऑस्ट्रेलिया अपनी योजना पर बरकरार रहती, लेकिन उनका जवाबी हमला करना अहम था जिससे वे रणनीति बदलने को बाध्य हुए.’’

VIDEO: स्टार्क की खतरनाक गेंद पर OUT हुए मुरली विजय, देखें पलक झपकते ही कैसे उड़े स्टम्प्स

इससे पहले कोहली ने चेतेश्वर पुजारा के साथ तीसरे विकेट के लिए 74 रन जोड़े. इशांत ने कहा, ‘‘जब पुजारा डिफेंसिव होकर खेलता है तो गेंद स्क्वायर से बाहर नहीं जाती. मैं उसके खिलाफ खेल चुका हूं और मैं जानता हूं कि उसे गेंदबाजी करना कितना मुश्किल है. वह गेंदबाजों को थका देता है. मैं जानता हूं कि अगर वह क्रीज पर रहता तो वह बेहतरीन कर सकता है. वह जिस तरह से आउट हुआ, वह दुर्भाग्यपूर्ण रहा. हमें ऐसे खिलाड़ियों के विकेट इतनी आसानी से नहीं मिलते.’’