भारत के सीनियर तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने कहा है कि अगर आईसीसी कोरोना वायरस महामारी के कारण गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर रोक लगाती है तो तेज गेंदबाजों को नए तौर तरीकों के लिए तैयार रहना होगा। Also Read - 'चेज मास्टर' विराट कोहली का मुरीद हुआ ये ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज, बताई वजह

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद कोरोना महामारी के चलते गेंद पर लार की बजाय कृत्रिम पदार्थ के इस्तेमाल की अनुमति देने की सोच रही है। इस विकल्प पर क्रिकेट जगत की मिली जुली प्रतिक्रया है। Also Read - टीम इंडिया के लिए खास है रोहित शर्मा-विराट कोहली की जोड़ी : कुमार संगकारा

आईपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स के साथ इंस्टाग्राम लाइव पर इशांत ने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि क्रिकेट में बदलाव और नए नियमों पर बात हो रही है लेकिन मेरा मानना है कि क्रिकेटरों को इसके अनुकूल ढलना होगा। लार का इस्तेमाल नहीं करने पर गेंद आपके हिसाब से चमकेगी नहीं लेकिन कुछ और नहीं किया जा सकता। वैसे मैं इन चीजों के बारे में ज्यादा नहीं सोचता। मेरा मानना है कि भविष्य के बारे में ज्यादा सोचे बिना वर्तमान में जीना चाहिए।’’ Also Read - पिता बनने वाले हैं हार्दिक पांड्या, बधाई देने में कप्तान विराट कोहली से आगे निकले रवि शास्त्री

दिल्ली कैपिटल्स को रिकी पॉन्टिंग से बेहतर कोच नहीं मिल सकता

इशांत ने बातचीत में यह भी कहा कि उन्हें रिकी पोंटिंग से बढ़िया कोच नहीं मिला, जिन्होंने पिछले साल आईपीएल में वापसी पर उन्हें ये महसूस कराया कि उनकी कितनी जरूरत है। पिछली बार बिक नहीं सके इशांत को दिल्ली कैपिटल्स ने खरीदा।

इशांत ने कहा, ‘‘मैंने रिकी से बेहतर कोच नहीं देखा। पिछले सीजन में आईपीएल में वापसी करते समय मैं काफी नर्वस था। लग रहा था कि क्रिकेट में डेब्यू कर रहा हूं। उन्होंने मुझे पहले दिन से सहज महसूस कराया और कहा कि सीनियर होने के नाते मुझे जूनियर गेंदबाजों की मदद करनी है। उससे मुझे काफी फायदा मिला।’’