नई दिल्ली : कोलकाता नाइट राइडर्स के कोच जैक्स कालिस का मानना है कि आगामी विश्व कप के लिए दिनेश कार्तिक को भारतीय टीम में जगह ना देना बहुत बड़ी बेवकूफी होगी. टीम का चयन करने के लिए चयनकर्ता सोमवार को मुंबई में बैठक करेंगे. कार्तिक आईपीएल में कोलकाता की ही कप्तानी कर रहे हैं. कालिस ने कहा, “मैं कार्तिक को अनुभव के लिए चुनुंगा, विश्व कप में आपको अनुभव चाहूंगा. वह जानते हैं कि विपरीत परिस्थितियों में कैसे खेलते हैं और वह अच्छी रेट से बल्लेबाजी करते हुए मध्यक्रम को मजबूती प्रदान कर सकते हैं. वह अधिक डॉट बॉल नहीं खेलते और उन्हें टीम में न चुनना भारत की बड़ी बेवकूफी होगी.” Also Read - US President Joe Biden भारत के विनय रेड्डी का लिखा भाषण पढ़ेंगे, ऐसी है बाइडेन की Team India

कालिस ने आईपीएल के 12वें संस्करण में दमदार बल्लेबाजी कर रहे वेस्टइंडीज के खिलाड़ी आंद्रे रसेल की भी प्रशंसा की और कहा कि वह हर परिस्थिति में बल्लेबाजी करने की कला सीख गए जिसने उन्हें इस साल और भी खतरनाक बना दिया है. Also Read - Team India की ऐतिहासिक जीत के बाद Virendra Sehwag का Tweet हुआ वायरल, जानें किस अंदाज में दी थी बधाई...

कालिस ने कहा, “रसेल बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंन पिछले साल लगातार सुधार किया है. उन्होंने अपने खेल के बारे में बहुत कुछ सीखा और अब वह विभिन्न परिस्थितियों में अच्छा खेल सकते हैं. वह अच्छा करना चाहते हैं, उनके अंदर बेहतर प्रदर्शन करने की भूख है और एक कोच के लिए वह बहुत महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं. अन्य खिलाड़ी भी उनके जैसा प्रदर्शन करना चाहते हैं.” Also Read - LIVE CRICKET SCORE, INDIA vs AUSTRALIA, DAY-5: भारत ने गाबा में दर्ज की जीत, 2-1 से नाम की सीरीज

धोनी को मिली अंपायर से भिड़ने की सजा, जयपुर में गरमा गए थे ‘कैप्टन कूल’

कालिस ने कहा, “दो युगों की तुलना करना मुश्किल है. जाहिर तौर पर विव अपने समय में अन्य खिलाड़ियों से बहुत आगे थे, लेकिन शायद वे आंद्रे रसेल जितने अच्छे नहीं थे. लेकिन जैसा कि मैंने कहा दो युगों की तुलना करना सही नहीं है क्योंकि परिस्थितियां बदल जाती हैं, कोचिंग के तरीके बदल जाते हैं.”

उन्होंने कहा, “हालांकि, गेंद को हिट करने के मामले में मैंने जितने खिलाड़ियों को देखा है उसमें रसेल बेस्ट है. वह ताकत से साथ गेंद को मारते हैं और उनके पास तकनीक भी है जिसपर उन्होंने बहुत मेहनत की है. अपने दिन पर रसेल को गेंदबाजी करना मुश्किल है, आप कोई भी हो वह आपको मार सकते हैं.”

पोंटिंग की ऋषभ पंत को सलाह, जिम्मेदारी से खेलने की जरूरत

चेन्नई की पिच की स्थिति को लेकर बहुत चर्चा हो रही है क्योंकि पिछले कुछ मैचों पर वहां गेंदबाजों को बहुत मदद मिली. कालिस ने कहा कि खेल में बल्ले और गेंद के बीच संतुलन बनाए रखना जरूरी है. कालिस ने कहा, “क्या 220 और 240 का स्कोर क्रिकेट की मदद करेगा? मैं ऐसा नहीं मानता. 160-170 के स्कोर वाला मैच भी अच्छा होता है. आपको गेंदबाजों को भी मौका देना होगा क्योंकि यह गेंद और बल्ले के बीच की प्रतियोगिता ना कि बल्ले या गेंद की. मैं नहीं समझता कि 230 या 240 का स्कोर क्रिकेट की अधिक मदद करेगा.”