नई दिल्ली : इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने टेस्ट क्रिकेट में कुल 563 विकेट हासिल करते हुए ऑस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा की बराबरी कर ली है. भारत के खिलाफ लंदन के ओवल मैदान पर जारी पांचवें टेस्ट मैच की चौथी पारी में सोमवार को दो विकेट लेने के साथ ही उन्होंने यह कीर्तिमान स्थापित किया. एंडरसन अब टेस्ट क्रिकेट में मैकग्रा के साथ संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बन गए हैं.Also Read - भारतीय खिलाड़ियों को विराट कोहली के लिए टी20 विश्व कप जीतना चाहिए: सुरेश रैना

Also Read - एशेज में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर लगातार दबाव बनाना जरूरी: स्टुअर्ट ब्रॉड

पांचवें टेस्ट मैच से पहले एंडरसन ने अपनी धारदार गेंदबाजी के दम पर कुल 559 विकेट लिए थे. मैच की दूसरी और चौथी पारी में दो-दो विकेट लेकर वह मैकग्रा के बराबर आ गए. अपनी स्विंग से दुनिया भर के बल्लेबाजों को मुश्किल में डालने वाले एंडरसन यह रिकॉर्ड बनाने के लिए कुल 143 मैच खेले, जबकि अपनी सटीक लाइन एवं लैंथ के लिए प्रसिद्ध मैकग्रा ने केवल 124 मैचों में भी इतने विकेट लिए थे. मैकग्रा ने अपना आखिरी टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाफ 2007 में खेला था. Also Read - IPL 2021, CSK vs KKR: Shane Watson ने दिग्गज गेंदबाज से की Josh Hazlewood की तुलना, गेंदबाजी का सामना करना मुश्किल

INDvENG: एलिस्टर कुक ने संन्यास से पहले तोड़ा संगकारा का रिकॉर्ड, ऐसा करने वाले 5वें बल्लेबाज

गौरतलब है कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड मुथैया मुरलीधरन के नाम दर्ज है. श्रीलंका के इस पूर्व दिग्गज गेंदबाज ने 230 पारियों में 800 विकेट झटके हैं. इस दौरान 22 बार दस विकेट और 67 बार पांच या इससे ज्यादा विकेट हासिल किए हैं. वहीं पूर्व ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज शेन वॉर्न दूसरे नंबर पर हैं. वॉर्न ने 273 पारियों में 708 विकेट हासिल किए हैं. भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज गेंदबाज अनिल कुंबले 619 विकेट के साथ तीसरे स्थान पर हैं. कुंबले ने 236 टेस्ट पारियों में यह प्रदर्शन किया.