नई दिल्ली : दो बार की उपविजेता केरला ब्लास्टर्स ने सोमवार को दो गोल से पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में मेजबान जमशेदपुर एफसी को उसके घर में 2-2 से ड्रॉ पर रोक दिया. ब्लास्टर्स ने आखिरी 15 मिनट के भीतर दो गोल करते हुए जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स मैदान पर खेले गए रोमांचक मुकाबले में मेजबान जमशेदपुर के मुंह से जीत छीनते हुए उसे अंक बांटने पर मजबूर कर दिया. Also Read - ISL 2018: जमशेदपुर का केरला से होगा मुकाबला, जानें किस स्थिति में हैं दोनों टीमें

Also Read - ISL 2018: गोवा के खिलाफ मैदान में उतरेगी पुणे सिटी, चुनौतीपूर्ण होगा मुकाबला

मेजबान टीम के लिए मैच का पहला गोल टिम काहिल ने तीसरे मिनट में किया जबकि दूसरा गोल माइकल सुसाइराज ने 31वें मिनट में दागा. 70वें मिनट तक मेहमान टीम के लिए उम्मीद की कोई किरण नहीं नजर आ रही थी. इस दौरान मेहमान टीम ने एक पेनाल्टी भी मिस की. इसके बाद हुए कुछ बदलावों ने मानो मेहमान टीम में नई ऊर्जा का संचार किया और उसने स्लाविस्ला स्टोजानोविक द्वारा 71वें और अपने स्टार सी.के. विनीत द्वारा 86वें मिनट में किए गए गोलों की मदद से हार टाल दी. Also Read - ISL 2018: एटीके के खिलाफ मैदान में उतरेगी चेन्नइयन एफसी, जानें किस स्थिति में हैं दोनों टीमें

मुंबई वनडे के बाद इस वजह से रोहित शर्मा पर आई विराट कोहली को हंसी

जमशेदपुर ने मुम्बई सिटी एफसी को अपने पहले मैच में हराया था लेकिन इसके बाद उसे बेंगलुरू एफसी से 2-2, एटीके से 1-1 और नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी से 1-1 से ड्रॉ खेलना पड़ा था. दूसरी ओर, केरल की टीम ने सीजन के पहले मैच में एटीके को 2-0 से हराया था लेकिन इसके बाद उसे मुम्बई सिटी एफसी और दिल्ली डायनामोज के खिलाफ अपने घर में ड्रॉ खेलना पड़ा है. लेकिन, इस ड्रॉ ने उसे अलग तरह का आत्मविश्वास दिया होगा. इस मैच के बाद जमशेदपुर की टीम 10 टीमों की तालिका में सात अंक लेकर चौथे स्थान पर पहुंच गई है जबकि केरल की टीम चार मैचों से मैचों से छह अंक लेकर सातवें स्थान पर है.

मैच की शुरुआत काफी धमाकेदार रही. मेजबान टीम ने तीसरे मिनट में ही बढ़त हासिल कर ली. उसके लिए आस्ट्रेलियाई स्टार टिम काहिल ने यह गोल किया. काहिल ने सर्गियो सिडोंचा द्वारा बाएं किनारे से लिए गए कार्नर किक पर तत्परता दिखाते हुए शानदार हेडर के जरिए गेंद को नेट में डालते हुए आईएसएल का अपना पहला गोल किया.

मेजबान टीम पहला गोल करने के बाद चढ़कर खेलने लगी. उसने लगातार हमले किए और इस दौरान उसे अपने घरेलू दर्शकों का भी जबरदस्त साथ मिला. इस दौरान मेहमान टीम संघर्ष करती दिखी. गेंद उसके खिलाड़ियों के पास टिक नहीं रही थी और मिडफील्ड असरहीन नजर आ रहा था.

सानिया मिर्जा ने दिया बेटे को जन्म, शोएब मलिक ने ट्वीट कर शेयर की खुशी

काहिल ने माइकल सुसाइराज के साथ मिलकर 20वें मिनट में एक बेहतरीन मौका बनाया लेकिन वह बेकार चला गया. 24वें मिनट तक जाते-जाते मेहमान टीम लय पकड़ती दिखी लेकिन अब तक उसकी ओर से कोई बड़ा हमला नहीं हुआ था. 31वें मिनट में गोल करते हुए सुसाइराज ने जमशेदपुर को 2-0 से आगे कर दिया.

सुसाइराज ने यह गोल सिडोंचा की मदद से किया. यहां मोहम्मद राकिप की खराब डिफेंडिंग केरल को महंगी पड़ गई क्योंकि थ्रोइन को वह कंट्रोल नहीं कर सके और सिडोंचा ने उसे लेकर सुसाइराज को सौंपा, जिन्होंने गोल करते हुए स्कोर 2-0 कर दिया. इसी स्कोर पर पहला हाफ समाप्त हुआ.

दूसरे हाफ की शुरुआत में ही केरल ने दो बदलाव किए. लालरुआथारा की जगह सहल अब्दुल समद अंदर आए जबकि किजिरोन किजितो के स्थान पर सिरिल काली मैदान पर आए. समद ने आते ही मातेज पोप्लातनिक के साथ मिलकर 51वें मिनट में एक अच्छा मूव बनाया और गेंद को टॉप कार्नर में डालने की कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हो सके.

VIDEO: रोहित शर्मा ने पकड़ा शानदार कैच, वेस्टइंडीज ने गंवाया मैच

केरल ने हमले जारी रखे. 55वें मिनट में बॉक्स के अंदर स्लाविस्ला स्टोजानोविक को गिराए जाने के कारण पेनाल्टी मिली लेकिन स्टोजानोविक जमशेदपुर के गोलकीपर सुब्रत पॉल को छका नहीं सके. स्टोजानोविक ने बाईं ओर गेंद को डालने का प्रयास किया लेकिन सुब्रत भांप गए और डाइव लगाकर गोल बचा लिया.

स्टोजानोविक ने हालांकि अपनी इस गलती की भरपाई 71वें मिनट में गोल करते हुए कर दी. स्कोर 1-2 हो चुका था. यह गोल सिमिनलेन डोंगेल के एसिस्ट पर हुआ, जो अंतिम बदलाव के रूप में 68वें मिनट में मैदान पर आए थे. राइट फ्लैंक से डोंगेल द्वारा दिए गए सटीक पास पर स्टोजानोविक ने यह गोल किया.

75वें और 76वें मिनट में मेजबान टीम ने दो बदलाव किए. सुसाइराज और काहिल बाहर लिए गए जबकि कार्लोस काल्वो और सुमीत पासी अंदर लिए गए. केरल ने लगातार हमले जारी रखे. उसे अच्छे मौके की तलाश थी और यह मौका उसे 86वें मिनट में उस समय मिला, जब उसके स्टार सी.के. विनीत ने डोंगेल के सटीक पास पर काफी करीब से गोल करते हुए स्कोर 2-2 से बराबर करते हुए मेजबान टीम को अंक बांटने पर मजबूर कर दिया.