नई दिल्ली: जापान और सेनेगल के बीच फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण में एकेतेरिनबर्ग एरिना में रविवार को खेला गया ग्रुप-एच का मैच 2-2 से बराबरी पर खत्म हुआ. इस ड्रॉ के साथ सेनेगल और जापान के चार-चार अंक हो गए हैं, लेकिन बेहतर गोल अंतर के मामले में जापान पहले स्थान पर कायम है. जो टीम इस मैच में जीत हासिल कर लेती वो अंतिम-16 का टिकट कटा लेती, लेकिन अब दोनों टीमों को अगले मैच का इंतजार करना पड़ेगा साथ ही पोलैंड और कोलंबिया के मैचों पर भी नजरें बनाए रखनी होगी. Also Read - कोरोना का कहर: FIFA का ऐलान- अगले साल तक स्थगित हो सकते हैं सभी अंतरराष्ट्रीय फुटबाल मैच

Also Read - COVID-19: भारत में होने वाला FIFA U-17 महिला वर्ल्ड कप 2020 स्थगित

मैच रोमांच से भरपूर रहा. सेनेगल ने शुरुआत से ही जापान पर दवाब बनाया. वह अपने आक्रामक खेल के जरिए लगातार जापान के पेनाल्टी एरिया में जा रही थी और 11वें मिनट में उसे सफलता भी मिल गई. मुसा वेगुए ने बॉक्स के अंदर पास दिया जिसे जापान के खिलाड़ी ने हेडर के जरिए क्लियर करने का प्रयास किया, लेकिन गेंद के पीछे खड़े यूसुफ साबली के पास गया जिन्होंने गोल पर निशाना दागा. जापान के गोलकीपर इजि कावाशिमा ने उसे पंच कर क्लियर करने की कोशिश की लेकिन गेंद सादियो माने के घुटने से टकरा कर नेट में चली गई और सेनेगल को आसानी से गोल मिल गया. Also Read - कोविड-19 को रोकने के फीफा के अभियान से जुड़े छेत्री और मेसी,13 भाषाओं में तैयार किया गया VIDEO

आयरलैंड पहुंचते ही भावुक हुए रोहित शर्मा, सोशल मीडिया पर फैन्स को बताई वजह

22वें मिनट में सेनेगल ने काउंटर अटैक कर एक और मौका बनाया. सेनेगेल के खिलाड़ी ने बॉक्स के बाहर से शॉट खेला. जापानी गोलकीपर ने इस बार कोई गलती नहीं की और अपनी बाएं तरफ शानदार डाइव मार सेनेगल को दूसरा गोल नहीं दागने दिया.

सेनेगल ने बेशक आक्रामक खेल खेला लेकिन जापान ने गेंद पर अधिकतर समय बिताया. आखिरकार उसे 34वें मिनट में सफलता मिली ही गई. ताकाशी इनयुई ने बॉक्स के बाएं कोने से गेंद को नेट के कोने में डाल अपनी टीम को बराबरी दिलाई.

टीम इंडिया के धाकड़ बल्लेबाज की हुई सर्जरी, जल्द मैदान पर होगी वापसी

पहला हाफ 1-1 की बराबरी पर खत्म हुआ. दूसरे हाफ में जापान ने पहले से बेहतर खेल दिखाया और आक्रामकता के साथ मैदान पर कदम रखा. उसने आते ही 49वें मिनट में मौका बनाया. गेनकी हारागुची ने हेडर से गेंद को युवा ओसाका को दी जिन्होंने गेंद को बार के ऊपर से खेल गोल का मौका गंवा दिया.

60 से 65वें मिनट के भीतर जापान ने तीन मौके बनाए. पहले मौके पर सेनेगल के गोलकीपर खादिम नडियाये नें गेंद क्लियर कर दी. 63वें मिनट में वागुए सेनेगल के डिफेंस के आगे कमजोर पड़ गए और 65वें मिनट में इनयुई का शॉट बार के कोने से टकरा कर बाहर चला गया.

पांचवें वनडे में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 1 विकेट से हराया, सीरीज पर 5-0 से किया कब्जा

जापान के बढ़ते प्रयासों के बीच सेनेगल ने वापसी की कोशिश की और 19 साल के वेगुए ने 71वें मिनट में अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय गोल कर सेनेगल को 2-1 से आगे कर दिया. उन्होंने यह गोल युसूफ के पास पर किया.

सेनेगल हालांकि अपनी बढ़त को ज्यादा देर बनाए नहीं रख पाई और 74वें मिनट में शिनजी कागवा के स्थान पर मैदान पर आए केइसुके होंडा ने 82वें मिनट में अपनी टीम के लिए बराबरी का गोल दागा. इस बार इनयुई ने गेंद होंडा को दी जिन्होंने गेंद को आसानी से नेट में डाल स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया. दोनों टीमें अंत तक विजयी गोल नहीं कर पाईं और अंक बांटने पर मजबूर हो गईं.