भारतीय टेस्‍ट टीम में अहम भूमिका निभाने वाले तेज गेंदबाज इशांत शर्मा को करियर के बुरे दौर से निकालने में कंगारू दिग्‍गज जेसन गिलेस्‍पी की अहम भूमिका है. इशांत खुद इंग्लिश कांउटी क्‍लब के लिए खेलने के दौरान गिलेस्‍पी से सलाह लेने की बात कह चुके हैं. इस मामले में अब गिलेस्‍पी ने भी प्रतिक्रिया दी है. Also Read - IPL 2021: मुंबई के खिलाफ मैच से पहले दिल्ली को मिली राहत; फिट हुए तेज गेंदबाज इशांत शर्मा

पढ़ें:- इस नन्हे दिव्यांग के खेल को देखकर पसीजा क्रिकेट के भगवान का दिल, शेयर किया VIDEO Also Read - IND vs ENG: इन बड़े रिकॉर्ड्स के लिए भी खूब याद किया जाएगा भारत-इंग्लैंड का Pink Ball Test

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान जेसन गिलेस्‍पी ने कहा, “ससेक्‍स के लिए खेलने के दौरान मेरी इशांत शर्मा से गेंदबाजी को लेकर कई मुद्दों पर बातचीत हुई. मुझे लगता है कि हमने एक दूसरे से काफी कुछ सीखा. इशांत यह जानने का इच्‍छुक था कि वो कैसे ज्‍यादा से ज्‍यादा विकेट निकालने के मौके पैदा कर सकें.” Also Read - Ind vs Eng: इंग्लैंड को हरा MS Dhoni से आगे निकले कोहली, मोटेरा के मैदान पर टूटे कई रिकॉर्ड

गिलेस्‍पी ने बताया, “उसने अधिक से अधिक स्विंग और सीम प्राप्‍त करने के लिए कलाई के सही उपयोग पर भी बातचीत की. अगर आप इशांत के विकेट लेने के तरीके को देखें तो आप पाएंगे कि वो औसतन फुल लेंथ डिलीवरी पर ऐसा करता है. हमने चर्चा की कि कैसे गेंद को जोर से पटकने की जगह फुल लेंथ गेंद से पिच को नुकसान पहुंचा सकते हैं.”

पढ़ें:- साल 2020 में भी भारतीय क्रिकेट टीम के सामने वर्ल्ड कप में नॉकआउट से आगे बढ़ने की होगी चुनौती, जानिए पूरा शेड्यूल

” भारत का तेज गेंदबाजी अटैक काफी मजबूत है. मैं खासतौर पर भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के तेज गेंदबाजी अटैक को देखना काफी पसंद करता हूं. मेरी नजर में मिशेल स्‍टार्क, जोश हेजलवुड, पैट कमिंस के सामने गेंदबाजी करना काफी मुश्किल है. हालांकि मैं ये भी कहूंगा कि जसप्रीत बुमराह और मोहम्‍मद शमी बेहद उत्‍साहित करने वाला गेंदबाजी कॉंबिनेशन है.”