नई दिल्ली : तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने कहा कि भारतीय गेंदबाज आईसीसी विश्व कप-2019 के अपने पहले मैच में बुधवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में उस जगह गेंद डालने की कोशिश कर रहे थे जहां वे टेस्ट मैचों में डालते हैं. बुमराह ने इस मैच में भारत को शुरुआती सफलता दिलाई और दक्षिण अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाज हाशिम अमला तथा क्विंटन डी कॉक को पवेलियन भेजा. उनके बाद लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने चार विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 227 रनों से आगे नहीं जाने दिया.

बुमराह ने पहली पारी खत्म होने के बाद कहा, “हम नई गेंद से मुश्किल लैंग्थ पर गेंदबाजी करना चाहते थे> जिस तरह टेस्ट मैच में करते हैं. शुरुआत में विकेट मिलना हमेशा से अच्छा होता है और हम इससे काफी खुश हैं.” उन्होंने कहा, “जब सीम मूवमेंट मिलता है तो आपको ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं होती है. अच्छी जगह गेंदें डालें और बल्लेबाजों की गलती का इंतजार करें.”

चहल के ‘चंगुल’ में फंसा दक्षिण अफ्रीका, 4 विकेट लेकर बनाया विश्वकप रिकॉर्ड

बता दें कि दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत खराब रही. टीम का पहला विकेट हाशिम अमला के रूप में गिरा. वो 6 रन बनाकर आउट हुए. जबकि क्विंटन डीकॉक 10 रन बनाकर चलते बने. इसके अलावा फाफ डु प्लेसिस 38 रन और डेविड मिलर 31 रन बनाकर आउट हुए. फेलहुक्वायो ने 34 रन का योगदान दिया. क्रिस मोरिस ने सबसे ज्यादा 42 रन बनाए. जबकि भारत के लिए युजवेन्द्र चहल ने 4 विकेट झटके. इसके अलावा भुवनेश्वर और बुमराह को 2-2 विकेट मिले.