नई दिल्ली : इंग्लैंड में अगले साल होने वाले विश्व कप के दौरान जसप्रीत बुमराह की फॉर्म और फिटनेस भारत के लिये बेहद महत्वपूर्ण होगी और इसलिए इस तेज गेंदबाज को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ आगामी एकदिवसीय श्रृंखलाओं के दौरान कुछ मैचों में विश्राम दिया जा सकता है. भारत की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एमसीजी पर तीसरे टेस्ट मैच में 137 रन की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले बुमराह ने इस साल विदेशी धरती पर नौ टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 48 विकेट लिये.

बुमराह ने नौ ओवरों में 379.4 ओवर किये जबकि मोहम्मद शमी ने उनसे कुछ अधिक ओवर (383.5 ओवर) किये लेकिन वह 12 मैचों में खेले. इशांत शर्मा ने इस दौरान 335 ओवर और रविचंद्रन अश्विन ने सर्वाधिक 386 ओवर किये.

सिडनी टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलिया ने किया टीम का ऐलान, ऑलराउंडर खिलाड़ी को दिया मौका

जहां तक भारत की विश्व कप की तैयारियों का सवाल है तो उसमें अश्विन और इशांत शामिल नहीं है. जिन 20 खिलाड़ियों को लेकर विश्व कप की टीम तैयार की जाएगी उनमें से 16 का चयन ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड श्रृंखला के लिये किया गया है. इसके अलावा ऋषभ पंत, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे और उमेश यादव भी दावेदारों में शामिल है.

जहां तक तेज गेंदबाजों के कार्यभार का सवाल है तो टीम प्रबंधन और चयनकर्ताओं की एक ही राय है. बुमराह का सिडनी में सत्र के आखिरी टेस्ट मैच में खेलना तय है और वह आईपीएल में मुंबई इंडियन्स के भी अहम अंग हैं. उनके कार्यभार को कम करने के लिये हो सकता है कि बीसीसीआई उनकी फ्रेंचाइजी से भी बात करे.

बुमराह की खतरनाक गेंदबाजी से खुश हुए कोहली, मेलबर्न टेस्ट के बाद की तारीफ

बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘‘विराट जैसे कद का खिलाड़ी बुमराह के कार्यभार को लेकर उनकी फ्रेंचाइजी से बात कर सकता है. लेकिन बुमराह को लेकर भारतीय टीम के सहयोगी स्टाफ को संबंधित आंकड़े जुटाने होंगे ताकि वह जरूरत पड़ने पर मुंबई इंडियन्स से बात कर सकें.’’