नई दिल्ली.  भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने कहा कि वेस्टइंडीज के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने तीसरे वनडे मैच के नतीजे में अंतर पैदा किया. वेस्टइंडीज की टीम ने एक समय 227 रन पर आठ विकेट गंवा दिए थे, लेकिन एश्ले नर्स (40) और केमार रोच (15) के बीच 56 रन की साझेदारी की बदौलत नौ विकेट पर 283 रन बनाने में सफल रही. Also Read - रोहित शर्मा की बेटी ने की बुमराह की गेंदबाजी की नकल; भारतीय पेसर ने कहा- ये तो मुझसे भी बेहतर है

विंडीज के लोअर ऑर्डर ने पैदा किया फर्क Also Read - बुमराह के साथ इंस्‍टाग्राम लाइव चैट के दौरान फैन के सवाल पर झल्‍लाए रोहित शर्मा, 'हम इंडियन हैं और...'

बुमराह ने मैच के बाद कहा, ‘‘मुझे लगता है कि एक इकाई के रूप में हमने अच्छी गेंदबाजी की, 35वें ओवर तक हम काफी अच्छी स्थिति में थे. हां, अंत में हमने कुछ रन दे दिए, शायद इसने ही अंतर पैदा किया. कुल मिलाकर गेंदबाजी प्रदर्शन बुरा नहीं था. वे अच्छा खेले और आपको बल्लेबाजों को श्रेय देना होगा. यह दोनों का संयोजन है.’’ बुमराह ने कहा, ‘‘अगर आप कहते हैं कि उनके गेंदबाजों ने 90 रन बनाए तो जेसन होल्डर आलराउंडर हैं. उन्होंने निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी की.’’ Also Read - पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने बताया- बेन स्टोक्स या हार्दिक पांड्या? कौन है बेहतर ऑलराउंडर

भुवी के बचाव में बुमराह

बुमराह ने अपने साथी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार का भी बचाव किया जिन्होंने 10 ओवर में 70 रन लुटाए. उन्होंने कहा, ‘‘भुवी ने अच्छी शुरुआत की लेकिन बीच के ओवरों में या अंत में उसके खिलाफ रन बने, कभी कभी ऐसा होता है. जब आप डेथ ओवरों में गेंदबाजी करते हैं तो यह मुश्किल होता है. यह जरूरी नहीं कि सभी गेंदबाज एक साथ अच्छा प्रदर्शन करें.’’

सोमवार को अगला मैच

पुणे वनडे में भारत को 43 रन की शिकस्त का सामना करना पड़ा जिससे वेस्टइंडीज ने पांच मैचों की वनडे सीरीज में अपनी उम्मीदों को जीवंत रखा है. दोनों टीमों के बीच अगला मैच मुंबई में सोमवार को खेला जाना है.