नई दिल्ली. मेलबर्न में बुमराह के आगे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने घूटने टेक दिए. उनके पास बुमराह की बेजोड़ गेंदबाजी का तोड़ नहीं दिखा. नतीजा ये हुआ कि एक के बाद एक विकेट चटकाते हुए बुमराह ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के आधे बल्लेबाजों को अकेले ही पवेलियन की राह पकड़ा दी. बुमराह ने 15.5 ओवर की गेंदबाजी की और 33 रन देकर 6 विकेट चटकाए.

बुमराह का ये प्रदर्शन सॉलिड रहा. ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं ये उनकी गेंदबाजी का सबसे शानदार फीगर रहा. इन 6 विकेटों के जरिए उन्होंने अपने टेस्ट करियर में तीसरी बार 5 विकेट लेने कमाल कर दिखाया और साथ ही एक बड़े रिकॉर्ड की स्क्रिप्ट भी लिखी.

pjimage (7)

मेलबर्न टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 6 विकेट चटकाने के बाद बुमराह पहले ऐसे एशियाई गेंदबाज बन गए हैं जिन्होंने एक कैलेंडर ईयर में ही साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया तीनों ही देशों की तेज विकेटों पर 5 विकेट लेने का कमाल किया है.

जसप्रीत बुमराह ने मेलबर्न में लगाया ‘छक्का’, ऐसा करने वाले पहले एशियाई गेंदबाज बने

बुमराह का टेस्ट डेब्यू इसी साल साउथ अफ्रीका में हुआ था और वहां खेले जोहांसबर्ग टेस्ट में इस तेज गेंदबाज ने 54 रन देकर 5 विकेट चटकाए. इसके बाद साल के मीडिल में जब भारत ने इंग्लैंड का दौरा किया तो वहां भी ट्रेंट ब्रिज में खेले टेस्ट में बुमराह ने 85 रन देकर 5 विकेट लिए. और अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न टेस्ट में भी बुमराह ने 33 रन देकर 6 विकेट झटके और एक शानदार रिकॉर्ड की स्क्रिप्ट लिखी.