लंदन: गुरुवार को इंग्‍लैंड के खिलाफ शुरू हो रहे दूसरे टेस्‍ट मैच से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एक बुरी खबर है. टीम के मुख्‍य गेंदबाज जसप्रीत बुमराह इस मुकाबले में भी नहीं खेल पाएंगे. बुमराह अभी बायें हाथ के फ्रैक्चर से नहीं उबर सके हैं. यह चोट उन्हें जून में आयरलैंड के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान लगी थी. Also Read - IPL 2020: कोलकाता नाइटराइडर्स पर मुंबई इंडियंस की 8 विकेट से जीत के ये हैं 5 बड़े कारण

Also Read - IPL 2020 MI vs DC: दिल्ली बनाम मुंबई के मुकाबले में होगी बुमराह और पंत के बीच कड़ी टक्कर, आंकड़ों में जानिए कौन किस पर भारी

इससे पहले बीसीसीआई ने कहा था कि बुमराह अगर फिट होते हैं तो दूसरे टेस्ट मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे लेकिन अब इस बात की पुष्टि हो गयी कि वह नौ अगस्त से शुरू हो रहे मैच में नहीं खेल पाएंगे. Also Read - IPL 2020: जीत के बावजूद मुंबई के कोच ने कहा- अभी और सुधार करना बाकी है

भारतीय गेंदबाजी कोच भरत अरूण ने कहा, ‘‘ वह (बुमराह) गेंदबाजी के लिए फिट है लेकिन अभी उसे मैच में उतारना जल्दबाजी होगी. उसके हाथ से पहले प्लास्टर हटना जरूरी है. वह दूसरे टेस्ट के लिए उपलब्ध नहीं होगा.’ बुमराह नेट पर गेंदबाजी कर रहे हैं लेकिन यह देखा गया है कि वह कैच अभ्यास सॉफ्ट बॉल से कर रहे हैं.

कपिल शताब्दी में एक बार पैदा होने वाला क्रिकेटर, पंड्या से तुलना मत करो: गावस्कर

भरत अरुण ने कहा कि टीम के गेंदबाजों ने पहले मैच में शानदार काम किया था, खासकर दूसरी पारी में उन्होंने पहली पारी से बेहतर गेंदबाजी की थी. उन्होंने कहा कि खेल में सुधार की संभावनाएं हमेशा होती हैं. बावजूद इसके टीम के गेंदबाजों से इससे बेहतर की उम्मीद नहीं की जा सकती थी.

टैलेंट और उम्र में से क्‍या महत्‍वपूर्ण है टीम में चयन के लिए, जानिए सचिन तेंदुलकर की क्‍या है राय

भरत ने कहा कि पहले मैच में दोनों ही टीमों के बल्लेबाजों को रन करने में परेशानी हुई थी. उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि पहले मैच में दोनों टीमों के बल्लेबाजों को परेशानी हुई थी. अगर आप स्कोर देखेंगे तो सिर्फ विराट कोहली और जो रूट ने स्विंग का अच्छे से सामना किया था. हमारे लिए चुनौती है कि हम यहां की स्थितियों के साथ अच्छे से तालमेल बिठाएं. इसके लिए हमारे पास रणनीति भी है.”

लॉर्ड्स टेस्ट में टीम इंडिया के लिए इंग्लैंड के ‘पोप’ होंगे खतरा!

हार्दिक पांड्या ने पहले टेस्ट मैच में ज्यादा गेंदबाजी नहीं की थी. भरत से जब पूछा गया कि हार्दिक को वह एक परिपक्व टेस्ट हरफनमौला खिलाड़ी के रूप में देखते हैं तो भरत ने कहा कि उनमें काफी प्रतिभा है. उन्होंने कहा, “वह तकनीकी तौर पर काफी अच्छे हैं. उनमें काफी प्रतिभा है, लेकिन हार्दिक जितना कम गेंदबाजी करते उतना अच्छा था क्योंकि बाकी के गेंदबाज अच्छा कर रहे थे. उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में हमारे लिए शानदार काम किया था. इसमें कोई शक नहीं है कि वह शानदार खिलाड़ी हैं.”

दूसरे टेस्ट मैच के टीम संयोजन पर भरत ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया और कहा कि इसका फैसला हालात को देखकर मैच से पहले लिया जाएगा. भारत को बर्मिंघम के एजबेस्टन में खेले गए पहले मैच में 31 रनों से हार का सामना करना पड़ा था और अब उसकी कोशिश गुरुवार से शुरू हो रहे दूसरे मैच में जीत हासिल कर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में बराबरी करने की है.