नॉटिंघम: जोस बटलर के करियर के पहले शतक और बेन स्टोक्स के साथ उनकी बड़ी शतकीय साझेदारी के बाद जसप्रीत बुमराह की तूफानी गेंदबाज से भारत ने तीसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन इंग्लैंड का स्कोर नौ विकेट पर 311 रन कर दिया. बटलर ने 176 गेंद की अपनी पारी में 21 चौकों की मदद से 106 रन बनाने के अलावा स्टोक्स (187 गेंद, 60 रन, छह चौके) के साथ पांचवें विकेट के लिए 169 रन की बड़ी साझेदारी भी की लेकिन इसके बावजूद भारतीय टीम जीत से सिर्फ एक विकेट दूर है.Also Read - IND vs WI: वेस्टइंडीज के खिलाफ भारतीय टीम का ऐलान, Rohit Sharma संभालेंगे कमान, Ravi Bishnoi को 'गोल्डन चांस'

Also Read - IND vs WI: सीमित ओवरों की सीरीज से पहले Rohit Sharma फिट, Jasprit Bumrah को आराम

आदिल राशिद (नाबाद 30) और जेम्स एंडरसन (नाबाद आठ) ने दिन के अंतिम 5 . 4 ओवर तक टिककर सीरीज में पहली बार मैच को पांचवें दिन खींचा. बटलर और स्टोक्स उस समय क्रीज पर उतरे जब 521 रन के लक्ष्य का पीछा करते इंग्लैंड की टीम 62 रन पर चार विकेट गंवाकर संकट में थी. दोनों ने स्कोर चार विकेट पर 231 रन तक पहुंचाया लेकिन दूसरी नयी गेंद लेने के बाद बुमराह (85 रन पर पांच विकेट) की अगुआई में भारतीय गेंदबाजों ने इंग्लैंड को हार के कगार पर पहुंचा दिया. इशांत शर्मा (70 रन पर दो विकेट), मोहम्मद शमी (76 रन पर एक विकेट) और हार्दिक पंड्या (22 रन पर एक विकेट) ने बुमराह का अच्छा साथ निभाया. इंग्लैंड को अब भी जीत के लिए 210 रन की दरकार है. Also Read - ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वार्न ने बताया- क्यों अजिंक्य रहाणे नहीं बन सकते भारत के अगले टेस्ट कप्तान

इशांत, शमी और बुमराह की तेज गेंदबाजी तिकड़ी ने सुबह इंग्लैंड को काफी परेशान किया जिसने सत्र में 61 रन बनाकर चार विकेट गंवाए. बटलर और स्टोक्स की बदौलत मेजबान टीम हालांकि दूसरे सत्र में बिना विकेट खोए 89 रन जोड़ने में सफल रही. भारत ने अंतिम सत्र में वापसी करते हुए 146 रन पर पांच विकेट चटकाए.

इंग्लैंड ने दिन की शुरुआत बिना विकेट खोए 23 रन से की. इशांत ने दोनों ही सलामी बल्लेबाजों को सुबह जल्दी चलता किया. कीटोन जेनिंग्स (13) दिन की पांचवीं गेंद पर विकेटकीपर ऋषभ पंत को कैच दे बैठे. इशांत ने अपने अगले ओवर में पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक (17) को दूसरी स्लिप में लोकेश राहुल के हाथों कैच कराके इंग्लैंड का स्कोर 32 रन पर दो विकेट किया.

Asian Games 2018: 2006 में कांस्य पदक जीता, फिर चोट और ट्रेन की डकैती ने बदल दी जिंदगी, आठ साल बाद वापसी

कप्तान जो रूट (13) और ओलिवर पोप (16) ने इसके बाद तीसरे विकेट के लिए 30 रन जोड़े. इंग्लैंड के 50 रन 19वें ओवर में पूरे हुए. रूट और पोप दोनों हालांकि इस साझेदारी के दौरान अधिकतर समय असहज दिखे. रूट को बुमराह की कोण लेती गेंदों के खिलाफ परेशानी का सामना करना पड़ रहा था जबकि पोप जोखिम उठाते हुए ड्राइव लगा रहे थे. ये दोनों अंतत: 25वें और 26वें ओवर में पांच गेंद के भीतर पवेलियन लौट गए. रूट पहले आउट हुए। बुमराह की बाहरी जाती गेंद पर कड़ा प्रहार करने की कोशिश में उन्होंने दूसरी स्लिप में राहुल को कैच थमाया. पोप भी इसके बाद शमी की आफ स्टंप से बाहर जाती गेंद पर खराब शॉट खेलकर स्लिप में कैच दे बैठे. कप्तान विराट कोहली ने राहुल के आते गोता लगाते हुए कैच लपका.

INDvsENG: भारत के खिलाफ इंग्लैंड की बढ़ी मुश्किलें, टीम का दिग्गज खिलाड़ी हुआ चोटिल

इंग्लैंड की स्थिति और खराब होती लेकिन युवा पंत ने पारी के 27वें ओवर में बुमराह की गेंद पर बटलर का मुश्किल कैच टपका दिया. बटलर इस समय एक रन न बनाकर खेल रहे थे. चाय के बाद बटलर और स्टोक्स ने सतर्क शुरुआत की. दोनों ने शुरुआती चार ओवर में सिर्फ एक रन बनाया लेकिन इसके बाद कुछ आकर्षक शॉट खेले. बटलर ने इशांत पर चौका मारा जबकि स्टोक्स ने भी इस तेज गेंदबाज पर दो चौकों के साथ 42वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. बुमराह की गेंद ने दो बार बटलर के बल्ले का किनारा लिया लेकिन दोनों ही बार गेंद क्षेत्ररक्षकों से दूर रही. बटलर और स्टोक्स ने 55वें ओवर में इंग्लैंड के 150 रन पूरे किए. बटलर ने अगले ओवर में बुमराह पर चौके के साथ 93 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. शमी ने जब अगले स्पैल के लिए वापसी की तो उन्हें अच्छी रिवर्स स्विंग मिल रही थी लेकिन चाय तक वह टीम को सफलता नहीं दिला पाए.

AsianGames2018, Day 3: संजीव राजपूत ने साधा सिल्वर पर निशाना, शूटिंग में भारत को दूसरा रजत पदक

चाय के बाद बटलर ने इशांत पर तीन चौके मारे. स्टोक्स ने इशांत की गेंद पर दो रन के साथ 147 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और 72वें ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया. बटलर ने शमी के ओवर में तीन चौकों के साथ 152 गेंद में अपने करियर का पहला शतक पूरा किया. भारत ने 80 ओवर के तुरंत बाद नयी गेंद ली और टीम को सफलता हासिल करने में अधिक देर नहीं लगी जब बुमराह ने तीसरे ओवर में ही बटलर को पगबाधा कर दिया. बटलर ने शॉट नहीं खेलने का फैसला किया लेकिन अंदर आती गेंद उनके पैड पर लगी और अंपायर ने अंगुली उठा दी. बल्लेबाज ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन ‘अंपायर कॉल’ के कारण उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा. बुमराह ने अगली गेंद पर जानी बेयरस्टो (00) को बोल्ड किया. क्रिस वोक्स ने हालांकि चौका जड़कर इस तेज गेंदबाज को हैट्रिक से महरूम किया.

VIDEO: फार्म हाउस पर जीवा ने की ये क्यूट शैतानी, धोनी ने कहा स्मार्ट गर्ल

बुमराह ने अपने अगले ओवर में वोक्स (04) को पंत के हाथों कैच कराके इंग्लैंड को सातवां झटका दिया जबकि पंड्या ने स्टोक्स को पवेलियन भेजा जिन्होंने स्लिप में राहुल को कैच थमाया. इंग्लैंड ने 10 रन के भीतर चार विकेट गंवाए. बुमराह ने इसके बाद आदिल राशिद को स्लिप में कोहली के हाथों कैच कराया लेकिन यह नो बॉल हो गई. वह इस समय दो रन बनाकर खेल रहे थे. राशिद ने इसके बाद बुमराह की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का मारा. कोहली ने इसके बाद शमी की गेंद पर राशिद को जीवनदान दिया. राशिद ने स्टुअर्ट ब्रॉड (20) के साथ मिलकर नौवें विकेट के लिए 50 रन जोड़कर भारत के जीत के इंतजार को बढ़ाया. बुमराह ने ब्रॉड को स्लिप में राहुल के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोड़ा. राशिद ने शमी पर चौके के साथ टीम का स्कोर 300 रन के पार पहुंचाया और एंडरसन के साथ मिलकर चौथे दिन भारत को जीत से एक विकेट दूर रखा.