नई दिल्ली: वनडे सीरीज में युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की गेंदों का सामना नहीं कर पा रही दक्षिण अफ्रीकी टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज जेपी डुमिनी ने कहा है कि उन्हें इन दोनों स्पिनरों के खिलाफ नये सिरे से रणनीति बनानी होगी. तीसरे वनडे में जीत के लिये 304 रन के लक्ष्य क पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीकी टीम 40 ओवर में 170 रन पर आउट हो गई. चहल और यादव ने चार-चार विकेट लिये. Also Read - IND vs AUS: सूर्यकुमार यादव को फिर नहीं मिली टीम इंडिया में जगह, फैंस मांग रहे न्याय

Also Read - IND vs AUS: इन IPL स्‍टार्स को भी मिला ऑस्‍ट्रेलिया का टिकट, नेट्स में बल्‍लेबाजों को कराएंगे प्रैक्टिस

डुमिनी ने कहा, ”हममें से कई उनकी गुगली का सामना नहीं कर सके. उन्होंने इतनी अच्छी गेंदबाजी की कि हम अपना स्वाभाविक खेल नहीं दिखा पाये. हमें उनके खिलाफ नये सिरे से रणनीति बनानी होगी. उन्होंने हमें हर विभाग में उन्नीस साबित किया.” Also Read - जो रूट ने कोहली की तारीफ में पढ़े कसीदे, कहा-असाधारण प्रतिभा के धनी हैं कोहली

पृथ्वी शॉ के लिए संकटमोचक बनेगी शिवसेना, घर की मुश्किलों को करेंगे दूर

उन्होंने कहा कि सीरीज में अभी तीन मैच बाकी है और वे चौथे मैच से पहले गंभीर विचारमंथन करेंगे. उन्होंने कहा, ”एक योजना होनी जरूरी है. हम चौथे मैच से पहले आत्ममंथन करेंगे. हम उनके स्पिनरों को नहीं खेल पा रहे हैं.”

डुमिनी ने कहा, ”हमें उनका तोड़ निकालना होगा. जब आप उनकी ढीली गेंदों को भी नहीं खेल पा रहे तो इसका मतलब है कि आप सहज नहीं हैं. एक बार सहज होने पर आप आत्मविश्वास के साथ खेल सकते हैं.” भारतीय कप्तान विराट कोहली ने नाबाद 160 रन बनाये जो वनडे क्रिकेट में उनका 34वां शतक है. डुमिनी ने कहा कि कोहली अलग ही लीग में है और दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों को उनके बल्ले पर अंकुश लगाने के लिये अलग तरीके से सोचना होगा. उन्होंने कहा, ”वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से है. आपको उसके खिलाफ एक भी मौका नहीं छोड़ना चाहिये. हमने मौके बनाये लेकिन उन्हें भुना नहीं सके.”

पूर्व पाक खिलाड़ी ने बताया कोहली के बल्ले से क्यों बरसते हैं इतने रन

बता दें कि  भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए केपटाउन वनडे मुकाबले में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते  हुए 303 रन बनाए. इस दौरान टीम के कप्तान विराट कोहली ने बेहतरीन शतकीय पारी खेली. कोहली ने 159 गेंदों का सामना करते हुए 160 रन बनाए. इसके जवाब में उतरी दक्षिण अफ्रीका टीम 179 रन पर ऑल आउट हो गयी.

भारत की ओर से बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए कुलदीप यादव ने एडिन मार्करम, क्रिस मॉरिस, एन्डिल फेहलुकवायो और लुंगी एन्गिडी को पवेलियन भेजा. वहीं चहल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए डुमिनी, क्लासेन, जोंडो और इमरान ताहिर का विकेट झटका.