पाकिस्तान के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जुनैद खान ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें सभी प्रारूपों में विश्व का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बताया है. जुनैद ने कहा कि कोहली की निरंतरता उन्हें बाबर आजम, स्टीव स्मिथ और केन विलियम्सन से आगे रखती है.Also Read - IND vs SA: दो खेमों में बंट चुकी है भारतीय टीम, दानिश कानेरिया बोले- विराट खेमा नहीं कर रहा बात

जुनैद ने क्रिकइनजीआईएफ के यूट्यूब चैनल पर अपलोड किए गए वीडियो में कहा, ‘इसमें कोई शक नहीं है कि कोहली तीनों प्रारूपों में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं. अगर आप किसी से पूछेंगे तो वह कहेंगें कि बाबर आजम, जो रूट, केन विलियम्सन, स्टीव स्मिथ इस समय विश्व में सर्वश्रेष्ठ हैं लेकिन इन सभी से ऊपर कोहली हैं क्योंकि वह तीनों प्रारूपों में ही शानदार रहे हैं. Also Read - Shikhar Dhawan को टी20 वर्ल्ड कप से बाहर करना सही फैसला नहीं था, ओपनिंग KL Rahul की जगह नहीं: Sanjay Bangar

तब कोहली को तीन बार आउट किया था जुनैद ने कोहली को  Also Read - SA vs IND, 2nd ODI: वनडे फॉर्मेट में पहली बार स्पिनर के सामने 'शर्मसार' हुए Virat Kohli, नहीं खोल सके खाता

2012 में भारत में हुई वनडे सीरीज में जुनैद ने कोहली को तीन बार आउट किया था. बकौल जुनैद, ‘उस दौरे से पहले मैं फैसलाबाद में क्रिकेट खेल रहा था. मैं एक दिन में 35-40 ओवर गेंदबाजी कर रहा था जिससे मुझे सीरीज के लिए जरूरी लय मिल गई थी. मैं उस सीरीज से वनडे में वापसी कर रहा था. भारत जाने से पहले मैं सोच रहा था कि यह मेरे लिए वापसी का एक मात्र मौका है.’

‘वनडे में वापसी के लिए मुझे भारत के खिलाफ विकेट झटकना बेहद जरूरी था’

उन्होंने कहा, ‘मैं टेस्ट टीम में स्थायी था लेकिन मुझे वनडे में वापसी करनी थी. दूसरी बात यह थी कि मैं जानता था कि वापसी के लिए मुझे भारत के खिलाफ विकेट लेने होंगे. मैंने पहली गेंद उन्हें फेंकी वो वाइड थी. अगली गेंद पर वो बीट हो गए. मैंने सोचा कि वह कोई आम बल्लेबाज हैं. इसके बाद मुझे लय मिली.’

‘कोहली को मैंने कहा था-देखते हैं’

उन्होंने कहा, ‘विराट ने सीरीज से पहले मुझसे कहा था कि यह भारतीय पिचें हैं और यहां गेंद ज्यादा स्विंग या सीम नहीं होती मैंने कहा कि देखते हैं क्योंकि मैं अच्छी लय में था.’ जुनैद ने पाकिस्तान के लिए 22 टेस्ट, 76 वनडे और नौ टी-20 मैच खेले हैं जिनमें क्रमश: 71, 110 और नौ विकेट लिए हैं.