लंदन: यूवेंटस के स्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने स्वीकार किया है कि वह उस समय ‘शर्मसार’ महसूस कर रहे थे जब अपने परिवार को इन आरोपों से बचाने का प्रयास कर रहे थे कि उन्होंने अमेरिका में एक महिला का बलात्कार किया है. रोनाल्डो पर जून 2009 में कैथरीन मेयोर्गा ने लास वेगास के होटल में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. पांच बार के चैंपियन्स लीग के विजेता पुर्तगाल के इस फारवर्ड ने इन आरोपों से इनकार किया था . 10 साल पहले इस मामले की जांच को बंद कर दिया गया था.

अगस्त 2018 में इस मामले को जांच के लिए दोबारा खोला गया जिसके बाद सितंबर में कैथरीन ने दीवानी मामला दायर कराया और वे जानकारियां देने की पेशकश की जो उन्होंने पहले साझा नहीं की थी. अभियोजकों ने हालांकि इस साल जुलाई में घोषणा की कि वे इस मामले को आगे नहीं बढ़ाएंगे क्योंकि ये आरोप तर्कसंगत संदेह से आगे साबित नहीं होते हैं.

मैनचेस्टर यूनाईटेड के पूर्व स्टार रोनाल्डो ने कहा कि इस मामले का उन पर मानसिक असर पड़ा क्योंकि वह अपने बच्चों को इन खबरों से बचाने का प्रयास कर रहे थे. रोनाल्डो ने पीयर्स मोर्गन को ‘गुड मार्निंग ब्रिटेन’ पर मंगलवार को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘वे आपकी प्रतिष्ठा के साथ खेलते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह काफी मुश्किल है. आपकी प्रेमिका है, आपका परिवार है, आपके बच्चे हैं. जब वे आपकी ईमानदारी के साथ खेलते हैं तो यह बुरा होता है, बेहद मुश्किल.’’

रोनल्डो ने कहा, ‘‘मुझे याद है कि एक दिन मैं घर पर लीविंग रूम में अपनी प्रेमिका के साथ टेलीविजन पर समाचार देख रहा था और वे इस बारे में बात कर रहे थे ‘क्रिस्टियानो रोनाल्डो ये और वो’. ’’ इस दिग्गज फुटबालर ने कहा, ‘‘मुझे अपने बच्चों के सीढ़ियों से उतरने की आवाज सुनाई  दी और मैंने चैनल बदल दिया क्योंकि मैं शर्मसार था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने चैनल बदला क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि क्रिस्टियानो जूनियर ये देखे कि वे एक काफी बुरे मामले में उसके पिता के बारे में क्या बुरा-भला बोल रहे हैं.’’