भारतीय महिला पहलवान और राजनेता बबीता फोगाट ने हाल में सोशल मीडिया पर कहा था कि देश में कोरोनावायरस से ज्यादा चिंता ‘अज्ञानी जमाती’ बने हुए हैं. इस ट्वीट के बाद वह ट्रोर्ल्स के निशाने पर आ गईं. हालांकि बाद में बबीता ने खुद का बचाव करते हुए कहा था कि उनका यह ट्वीट उन लोगों के लिए हैं, जो डॉक्टर और पुलिस पर हमला कर रहे हैं और कोरोनावायरस फैला रहे हैं. Also Read - Corona Cases in UP: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से और 312 मरीजों की मौत, 15,747 नये मामले

COVID-19: लॉकडाउन के चलते आईलीग के 28 मैच हुए रद्द, मोहन बागान होगा चैंपियन Also Read - Viral Video:'लव यू जिंदगी' सुनते-सुनते कोरोना से हार गई ये युवा मां, हजारों दुआओं...

बबीता के इस बयान पर अर्जुन अवॉर्डी युगल बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा ने कड़ा ऐतराज जताया है. ज्वाला ने बबीता से अपने बयान को वापस लेने को कहा है. 2010 राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता ज्वाला ने ट्वीट किया, ‘माफ करें बबीता, लेकिन मुझे नहीं लगता है कि यह वायरस जाति या धर्म को देखता है. मैं आपसे अपना बयान वापस लेने का अनुरोध करती हूं.’ Also Read - Kerala Lockdown Extension News: केरल में फिर बढ़ा लॉकडाउन, अब 23 मई तक तालाबंदी

IPL के बेस्ट कप्तान बने MS Dhoni और रोहित शर्मा, विराट कोहली ने इस मामले में मारी बाजी

उन्होंने कहा, ‘हम लोग खिलाड़ी हैं और हम उस देश का प्रतिनिधित्व करते हैं, जोकि धर्मनिरपेक्ष और बहुत ही सुंदर है. जब हम जीतते हैं तो ये भी खुशियां मनाते हैं और हमारी जीत उनकी जीत है.’


भारत की इस अनुभवी शटलर ने ने इसके बाद एक और टवीट किया. उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा, ‘मजहब नहीं सिखाता, आपस में बैर रखना. हिन्दी हैं हम वतन हैं, हिन्दोस्तां हमारा.’


गौरतलब है कि जमातियों के प्रति टिप्पणी के बाद बबीता को जान से मारने की धमकी मिल रही है जिसका जिक्र उन्होंने वीडियो में किया है. उन्होंने कहा कि वो जायरा वसीम नहीं हैं, जो इन लोगों से डर जाएंगी.