नई दिल्ली. पोर्ट एलिजाबेथ में खेले दूसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका ने शानदार जीत दर्ज करते हुए सीरीज में बराबरी कर ली है. दूसरे टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हराया. प्रोटियाज टीम की इस जीत के हीरो रहे तेज गेंदबाज कैसगो रबाडा, जिन्होंने  इस मैच में 11 विकेट झटककर ऑस्ट्रेलिया की कमर तोड़ते हुए रिकॉर्डो की नई दास्तान लिखी. लेकिन इस बड़ी जीत के बाद रबाडा को लेकर ICC ने जो फरमान सुनाया उसने साउथ अफ्रीकी टीम को जोर का झटका दिया है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पोर्ट एलिजाबेथ में खेले दूसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका की जीत के हीरो रहे कैसिगो रबाडा टेस्ट सीरीज के बाकी बचे दो मैचों में नहीं खेलेंगे. तेज गेंदबाज रबाडा को ICC ने लेवल 2 का दोषी पाते हुए अगले 2 टेस्ट से सस्पेंड कर दिया है. रबाडा पर लेवल 2 के चार्जेज पोर्ट एलिजाबेथ टेस्ट के पहले दिन ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ से भिड़ने की वजह से लगे. इसके लिए रबाडा को 3 डिमेरिट प्वाइंट मिले, जिसे मिलाकर पिछले 24 महीनों में उनके डिमेरिट प्वाइंट की संख्या 8 हो गई थी.  ICC नियम के मुताबिक, इसके लिए 2 टेस्ट मैच के बैन का प्रावधान है. साउथ अफ्रीका रबाडा पर लगे बैन के खिलाफ 48 घंटों में अपनी दलील रख सकता है.


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट में रबाडा ने कुल 11 विकेट चटकाए, जिसमें पहली पारी में उन्होंने 5 विकेट लिए तो वहीं दूसरी पारी में 6 कंगारू गेंदबाजों को अपना शिकार बनाया. ये रबाडा के टेस्ट करियर में चौथा मौका था जब उन्होंने 10 या उससे ज्यादा विकेट एक ही टेस्ट में लिए थे.

pjimage (7)

सिर्फ 23 साल की उम्र में 4 बार 10 या उससे ज्यादा विकेट लेने का कमाल करने वाले रबाडा पाकिस्तान के वकार युनिस के बाद दूसरे तेज गेंदबाज है. हालांकि, इस कामयाबी को हासिल करने के लिए वकार ने रबाडा से 7 टेस्ट ज्यादा खेले थे.

वर्ल्ड क्रिकेट में रबाडा कितनी तेजी से अपनी अलग पहचाने बनाते दिख रहे हैं उसका अंदाजा साल 2016 में उनके डेब्यू के बाद से किए उनके प्रदर्शन से लगाया जा सकता है. रबाडा ने तब से अब तक 4 बार टेस्ट मैच में 10 विकेट लेने का कमाल किया जबकि उनके मुकाबले दुनिया के बाकी गेंदबाज मिलकर सिर्फ 3 ही बार ऐसा कर सके हैं. इन 3 में एक बार इंग्लैंड के एंडरसन, एक बार ऑस्ट्रेलिया के स्टार्क और 1 बार इंग्लैंड के ही तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स ने ये कमाल किया है.

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 5 बार 10 विकेट लेने वाले अफ्रीकी गेंदबाज डेल स्टेन हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें 86 टेस्ट खेलने पड़े. जबकि रबाडा सिर्फ 28 टेस्ट के छोटे से करियर में ही 4 बार 10 विकेट ले चुके हैं. 28 टेस्ट में रबाडा के नाम 135 इंटरनेशनल विकेट हैं, 21.45 की औसत और 39 से भी कम की स्ट्राइक रेट के साथ. टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अब तक 183 गेंदबाजों ने 100 विकेट लिए हैं. इन सबमें सिर्फ एक गेंदबाज का स्ट्राइक रेट रबाडा से बेहतर हैऔर वो नाम है जॉर्ज लोहमान का. लोहमान ने 18 टेस्ट में 34.1 की स्ट्राइक रेट से 112 विकेट अपने नाम किए हैं.

पिछले 3 साल में रबाडा वर्ल्ड क्रिकेट में जिस तरह से उभरे हैं उससे आने वाले वक्त में उन्होंने एक महान गेंदबाज बनने के सारे संकेत दे दिए हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में वो दक्षिण अफ्रीका के एक्स फैक्टर थे. स्मिथ एंड कंपनी और जीत के बीच रबाडा सबसे बड़ा रोड़ा थे. लेकिन ICC के सस्पेंसन ऑर्डर के बाद ऑस्ट्रेलिया के ये खतरा टल गया और साउथ अफ्रीका की मुसीबतें अब सीरीज में बढ़ गई हैं.