नई दिल्ली: इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच 25 फरवरी से पांच वनडे मैचों की सीरीज खेली जायेगी. इससे पहले न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन का मानना है कि टी-20 में उनकी टीम के खराब प्रदर्शन कर असर इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में नहीं दिखेगा. न्यूजीलैंड की टीम हाल में समाप्त हुए त्रिकोणीय टी-20 सीरीज के फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही थी, लेकिन पिछले कुछ समय से टी-20 में टीम का प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा.Also Read - IND vs NZ, 2nd Test Playing XI: विराट कोहली ने जीता टॉस, भारतीय टीम में 'जबरदस्त बदलाव'

Also Read - IND vs NZ, 2nd Test: केन विलियमसन मुंबई टेस्ट से बाहर, टॉम लेथम करेंगे कप्तानी

INDvSA: तीसरे टी-20 के बाद ICC देगी कोहली को टेस्ट चैम्पियनशिप गदा Also Read - IND vs NZ Test: पांच साल से 'वानखेड़े स्‍टेडियम' को टेस्‍ट क्रिकेट का इंंतजार, विराट ने जड़ा था दोहरा शतक

क्रिकइंफो ने विलियमसन के हवाले से कहा, “मैं समझता हूं कि अब हमें टी-20 के बजाय वनडे क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, जिसमें हम अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. वनडे क्रिकेट की योजनाएं अलग हैं, इसलिए हमें उसके बारे में सोचना चाहिए. इंग्लैंड हमें कड़ी टक्कर देगी.”

विलियमसन ने कहा, “हमारी टीम ने वनडे क्रिकेट में बेहतर प्रदर्शन किया है, लेकिन हम जानते हैं कि हमें विपक्षी टीम और विभिन्न प्रकार के क्रिकेट पिच के अनुकूल होना होगा.”

विजय हजारे ट्रॉफी: कर्नाटक ने महाराष्ट्र को हराया, फाइनल में बनायी जगह

विलियमसन ने क्रिकेट के विभिन्न प्रारूपों पर कहा, “मैं समझता हूं कि टी-20 क्रिकेट में खिलाड़ी अपनी क्षमता से ऊपर प्रदर्शन करते हैं, जबकि वनडे और टेस्ट क्रिकेट में खिलाड़ी ज्यादा सकारात्मक रवैया अपनाते हैं. लेकिन इससे चीजें पूरी तरह से नहीं बदलतीं और आपको ऐसी पिच मिलती है, जिसमें अच्छी और रक्षात्मक बल्लेबाजी की आवश्यकता होती है.”

उन्होंने कहा, “निश्चित रूप से टी-20 का प्रभाव पड़ा है, लेकिन यह आवश्यक है कि हम परिस्थिति के अनुकूल प्रदर्शन करें.” न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच रविवार को यहां सेडोन पार्क मैदान में खेला जाएगा.