भारत और न्‍यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच खेले गए वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल (ICC World Test Championship 2021) मुकाबले में टीम इंडिया को आठ विकेट से मात देकर केन विलियमसन (Kane Williamson) की टीम ने खिताब पर कब्‍जा किया. ये महज दूसरा मौका है जब न्‍यूजीलैंड की टीम आईसीसी का टूर्नामेंट जीत पाई हो. इससे पहले साल 2000 में कीवी टीम ने चैपियंस ट्रॉफी अपने नाम की थी.Also Read - T20 World Cup के चार दिन बाद ही भारत करेगा न्यूजीलैंड का दौरा, ये है पूरा शेड्यूल

केन विलियमसन (Kane Williamson) ने एतिहासिक जीत के बाद चैंपियनशिप की मेस को टीम के साथ हाथ में लिया. केन ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन पलों पर बात की. Also Read - टी20 विश्व कप 2022 के बाद 6 मैचों के लिए न्यूजीलैंड दौरा करेगी टीम इंडिया, देंखे 2022-23 का पूरा शेड्यूल

उन्‍होंने कहा, “हम इससे पहले कभी आईसीसी की मेस को नहीं उठा पाए थे. ये एक अलग प्रकार की फील्डिंग थी. इसे उठाना हमारी सोच से भी ज्‍यादा भारी थी. जब तक हमने टेस्‍ट चैंपियनशिप की मेस को नहीं उठाया था उससे पहले तक हमें नहीं पता था कि वो असली थी या नहीं.” Also Read - बेन स्टोक्स ने कहा- न्यूजीलैंड को क्लीन स्वीप करने के बाद भारत के खिलाफ भी इसी मानसिकता से खेलेगा इंग्लैंड

केन विलियमसन (Kane Williamson) ने कहा, “हमारी टीम में नए और अनुभवी क्रिकेटर्स का अच्‍छा मिश्रण था. हमारे पास रॉस टेलर (Ross Taylor)  जैसा खिलाड़ी है जो टीम में सबसे ज्‍यादा अनुभवी है. वो टीम में लंबे समय से खेल रहे हैं. अपनी मेहनत से उन्‍होंने इतना कुछ पाया है. बीजे वाटलिंग (BJ Watling) भी काफी अनुभवी है. इन लड़कों ने हमें बहुत कुछ दिया है. यह काफी संतोषजनक है. ये पहल उनके करियर में हमेशा यादगार रहेंगे.”

View this post on Instagram

A post shared by Kane Williamson (@kane_s_w)

वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप का फाइनल पूरी तरह से बारिश से प्रभावित रहा. पहले और चौथे दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. दूसरे और तीसरे दिन भी कुछ देर बारिश के चलते मैच नहीं हो पाया था. अंतिम दो दिनों में पूरे दिन खेल हुआ और रजर्व डे पर आखिरी आधे घंटे के खेल के दौरान केन विलियमसन की न्‍यूजीलैंड ने भारत पर जीत दर्ज की.