महान क्रिकेटर कपिल देव ने मौजूदा तेज आक्रमण की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले चार-पांच साल में इन गेंदबाजों ने भारतीय क्रिकेट के रूख को ब

महान क्रिकेटर कपिल देव ने मौजूदा तेज आक्रमण की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले चार-पांच साल में इन गेंदबाजों ने भारतीय क्रिकेट के रूख को बदल दिया.

कपिल से जब पूछा गया कि क्या मौजूदा भारतीय तेज आक्रमण सर्वश्रेष्ठ है तो उन्‍होंने कहा, ‘‘ क्या मुझे यह कहने की जरूरत है?’’

पढ़ें:- IND vs SA: मयंक अग्रवाल ने जड़ा लगातार दूसरा शतक, भारत ने पहले दिन बनाए 273/3

विश्व विजेता पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘ ऐसे तेज गेंदबाजों का आक्रमण हमने देखा नहीं था, सोचा भी नहीं था. इसलिए किसी को कुछ कहने की जरूरत नहीं है और हां, बिना किसी संदेह के पिछले चार-पांच वर्षों में तेज गेंदबाजों ने भारतीय क्रिकेट के रूख को बदल कर रख दिया.’’

मौजूदा भारतीय तेज गेंदबाजों में जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, दीपक चाहर और नवदीप सैनी शामिल हैं.

स्ट्रैस फैक्चर के कारण बुमराह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में नहीं है लेकिन मोहम्मद शमी ने विशाखापत्तनम में पहले टेस्ट में शानदार गेंदबाजी कर उनकी कमी को महसूस नहीं होने दी.

कपिल ने एक प्रचार कार्यक्रम में कहा, ‘‘ इससे कुछ फर्क नहीं पड़ता (कि वह रैंकिंग में शीर्ष 10 में शामिल नहीं है). यह मायने रखता है कि वह टीम के लिए कितने प्रभावशाली है. उन्हें शानदार प्रदर्शन करते देखना अच्छा लगाता है.’’

कपिल ने कहा कि यह देखकर खुशी होती है कि भारत से ऐसे विश्व स्तरीय तेज गेंदबाज निकल रहे है. ‘‘आज यह जिंदगी के बारे में है. मुझे भारतीय गेंदबाजों की प्रतिभा पर फख्र है. वे अच्छी संख्या में आ रहे है.’’

अपने समय में टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बने कपिल ने युवा गेंदबाजों की प्रतिभा को निखारने के लिए इंडियन प्रीमियर लीग को श्रेय दिया.

उन्होंने कहा, ‘‘तेज गेंदबाजी आक्रमण का विकास होने में समय लगता है. अभी जितनी क्रिकेट खेली जा रही उसे देखकर अच्छा लगता है. आईपीएल के कारण कई तेज गेंदबाजों को मौका मिल रहा है.’’

रोहित की बल्‍लेबाजी

इस पूर्व ऑलराउंडर ने टेस्ट मैच में रोहित के अच्छे प्रदर्शन पर खुशी जतायी. उन्होंने कहा, ‘‘ रोहित को रन बनाते देखना अच्छा लगता है.’’

धोनी की रिटायरमेंट

विकेटकीपर महेन्द्र सिंह धोनी के बारे में पूछे गये सवाल के पर उन्होंने कहा कि पूर्व कप्तान को चयनकर्ताओं से चर्चा कर अपने भविष्य का फैसला करना चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘‘ यह धोनी का ही फैसला होगा. हम उनके भविष्य के बारे कैसे कुछ कह सकते है. उन्हें या चयनकर्ताओं को इस पर फैसला करना चाहिए. वह महान क्रिकेटर है.’’

दल दिया।

कपिल से जब पूछा गया कि क्या मौजूदा भारतीय तेज आक्रमण सर्वश्रेष्ठ है तो उन्‍होंने कहा, ‘‘ क्या मुझे यह कहने की जरूरत है?’’

पढ़ें:- IND vs SA: मयंक अग्रवाल ने जड़ा लगातार दूसरा शतक, भारत ने पहले दिन बनाए 273/3

विश्व विजेता पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘ ऐसे तेज गेंदबाजों का आक्रमण हमने देखा नहीं था, सोचा भी नहीं था। इसलिए किसी को कुछ कहने की जरूरत नहीं है और हां, बिना किसी संदेह के पिछले चार-पांच वर्षों में तेज गेंदबाजों ने भारतीय क्रिकेट के रूख को बदल कर रख दिया।’’

मौजूदा भारतीय तेज गेंदबाजों में जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, दीपक चाहर और नवदीप सैनी शामिल हैं।

स्ट्रैस फैक्चर के कारण बुमराह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में नहीं है लेकिन मोहम्मद शमी ने विशाखापत्तनम में पहले टेस्ट में शानदार गेंदबाजी कर उनकी कमी को महसूस नहीं होने दी।

कपिल ने एक प्रचार कार्यक्रम में कहा, ‘‘ इससे कुछ फर्क नहीं पड़ता (कि वह रैंकिंग में शीर्ष 10 में शामिल नहीं है)। यह मायने रखता है कि वह टीम के लिए कितने प्रभावशाली है। उन्हें शानदार प्रदर्शन करते देखना अच्छा लगाता है।’’

कपिल ने कहा कि यह देखकर खुशी होती है कि भारत से ऐसे विश्व स्तरीय तेज गेंदबाज निकल रहे है। ‘‘आज यह जिंदगी के बारे में है। मुझे भारतीय गेंदबाजों की प्रतिभा पर फख्र है। वे अच्छी संख्या में आ रहे है।’’

अपने समय में टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बने कपिल ने युवा गेंदबाजों की प्रतिभा को निखारने के लिए इंडियन प्रीमियर लीग को श्रेय दिया।

उन्होंने कहा, ‘‘तेज गेंदबाजी आक्रमण का विकास होने में समय लगता है। अभी जितनी क्रिकेट खेली जा रही उसे देखकर अच्छा लगता है। आईपीएल के कारण कई तेज गेंदबाजों को मौका मिल रहा है।’’

…रोहित की बल्‍लेबाजी

इस पूर्व ऑलराउंडर ने टेस्ट मैच में रोहित के अच्छे प्रदर्शन पर खुशी जतायी। उन्होंने कहा, ‘‘ रोहित को रन बनाते देखना अच्छा लगता है।’’

…धोनी की रिटायरमेंट

विकेटकीपर महेन्द्र सिंह धोनी के बारे में पूछे गये सवाल के पर उन्होंने कहा कि पूर्व कप्तान को चयनकर्ताओं से चर्चा कर अपने भविष्य का फैसला करना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘ यह धोनी का ही फैसला होगा। हम उनके भविष्य के बारे कैसे कुछ कह सकते है। उन्हें या चयनकर्ताओं को इस पर फैसला करना चाहिए। वह महान क्रिकेटर है।’’