नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सेना के साथ दो महीने बिताने के फैसले की विश्व विजेता कप्तान कपिल देव और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने तारीफ की है और कहा है कि धोनी का यह फैसला देश के कई युवाओं को प्रेरित करेगा. पूर्व क्रिकेटर और अब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद गौतम गंभीर पहले कई बार यह कह चुके हैं कि धोनी को सेना की वर्दी तभी पहननी चाहिए जब वह सेना के लिए कुछ करें, लेकिन अब गंभीर ने धोनी के सेना के साथ समय बिताने के कदम को ऐतिहासिक बताया है. Also Read - MS Dhoni का नया लुक हो रहा वायरल, आपने देखा क्या!

Also Read - कप्तान अजिंक्य रहाणे के पूछने पर गाबा टेस्ट में चोट के साथ गेंदबाजी को तैयार थे नवदीप सैनी

गंभीर ने एक निजी समाचार चैनल द्वारा करगिल युद्ध के 20 साल पूरे होन पर आयोजित किए गए शिखर सम्मेलन के दौरान कहा कि धोनी का यह कदम कमाल का है. मैंने पहले कई बार कहा है कि धोनी को सेना की वर्दी तभी पहननी चाहिए जब वो सेना के लिए कुछ करें और अब धोनी ने सेना के साथ समय बिताने का फैसला किया है. इससे पता चलता है कि वह सेना के प्रति कितने समर्पित और गंभीर हैं. धोनी का यह कदम देश के कई युवाओं के लिए प्रेरणा का काम करेगा और युवा सेना में शामिल होने के लिए प्रेरित होंगे. Also Read - Gautam Gambhir Donated One Crore Rupees for Ram Mandir: गौतम गंभीर ने राम मंदिर के लिए 1 करोड़ रुपए दान दिए, कही ये बात

विकेट के पीछे नजर रखने वाले धोनी अब बॉर्डर पर करेंगे निगरानी, यहां हुई पहली तैनाती

कपिल देव का मिला समर्थन

गंभीर की बात को भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव का समर्थन मिला. कपिल ने कहा कि धोनी ने जो किया है, वो बड़ा फैसला है. इससे देश का युवा प्रेरित होगा. मुझे लगता है कि देश के युवाओं को कुछ समय सेना में जरूर बिताना चाहिए, जिससे देश का भला हो सके और युवाओं को नई सीख मिल सके. विश्व कप के बाद धोनी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को बता दिया था कि वह सेना के साथ समय बिताने के लिए क्रिकेट से दो महीने का ब्रेक लेंगे. इसी कारण धोनी को वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली वनडे और टी-20 सीरीज के लिए भी टीम में नहीं चुना गया.