पूर्व कप्‍तान कपिल देव का मानना है कि साल में 10 महीने खेलने के कारण ही भारतीय टीम के खिलाड़ी लगातार चोटिल हो रहे हैं. विराट कोहली द्वारा सीधे स्‍टेडियम में लैंड करते ही मैच खेलने वाले बयान पर कपिल देव ने यह प्रतिक्रिया दी. कपिल देव ने केएल राहुल द्वारा विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी बखूबी तरीके से निभाने के लिए उनकी तारीफ भी की.

मौजूदा समय में चोट के चलते हार्दिक पांड्या, शिखर धवन और भुवनेश्‍वर कुमार टीम से बाहर हैं. जसप्रीत बुमराह हाल ही में चोट के बाद वापसी करने में सफल हुए हैं.

पढ़ें:- IND vs NZ: रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह की शानदार गेंदबाजी, भारत को मिला 133 रन का लक्ष्‍य

कपिल देव ने कहा, “जब साल में 10 महीने खेलोगे तो आपको चोट तो लगेगी ही. आपको अपने तेज गेंदबाजों का ध्‍यान रखना होगा. खेलने की कंडीशन और मौसम अन्‍य देशों के मुकाबले भारत में ज्‍यादा चुनौतीपूर्ण हैं. टीम मैनेजमेंट को इन चीजों का ध्‍यान रखना होगा.”

कपिल देव ने कहा, “हार्दिक पांड्या को चिंतित होने की जरूरत है. उसे जल्‍द से जल्‍द फिट होकर टीम में वापसी को लेकर चिंतित होना चाहिए. यह काफी जरूरी है. उसे अपना ध्‍यान रखना होगा.”

पढ़ें:- फैंस को अपशब्द कहने के बाद बेन स्टोक्स पर लगा जुर्माना; मिला एक डीमेरिट प्वाइंट

वर्ल्‍ड कप विजेता कप्‍तान ने आगे कहा, “रिषभ पंत काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी है. वो किसी को भी दोष नहीं दे सकता है. उसे अपने करियर पर ध्‍यान देना होगा. यहीं तरीका है रन बनाकर खुद को साबित करने का. जब आप प्रतिभाशाली हो तो यह आपकी जिम्‍मेदारी है कि आपको खुद को साबित करना है.”

कपिल देव ने केएल राहुल द्वारा विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी बेहद अच्‍छे से निभाने की तारीफ की. “विकेट के पीछे वो अच्‍छा काम कर रहा है. विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट ने उनका इस नई जिम्‍मेदारी के लिए समर्थन किया. यह टीम मैनेजमेंट का निर्णय है कि उन्‍हें क्‍या जिम्‍मेदारी देनी है. उन्‍हें नंबर-3 पर बल्‍लेबाजी करानी है या नहीं.”