कर्नाटक के दाएं हाथ के मध्यम गति के गेंदबाज अभिमन्यु मिथुन (Abhimanyu Mithun) ने अपने 30वें जन्मदिन को यादगार बना दिया है. अभिमन्यु ने घरेलू वनडे क्रिकेट टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) के फाइनल में शुक्रवार को तमिलनाडु (Karnataka vs Tamil Nadu) के खिलाफ लगातार तीन गेंदों पर तीन विकेट चटकाकर हैट्रिक पूरी की.

आखिरी ओवर में हासिल की ये उपलब्धि

25 अक्टूबर, 1989 को बैंगलोर में जन्में इस गेंदबाज ने अपने घरेलू मैदान एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में जारी खिताबी मुकाबले में पारी के आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर शाहरुख खान (Shahrukh Khan) को मनीष पांडेय (Manish Pandey) के हाथों कैच कराया.

चौथी गेंद पर एम मोहम्मद (M Mohammad) को देवदत्त पडिकल (Devdutt Padikkal) के हाथों लपकवाया. इसकी अगली यानी पांचवीं गेंद पर मुरुगन अश्विन (Murugan Ashwin) को के गौतम (K Gowtham) के हाथों लपकवाकर अपनी हैट्रिक पूरी की.


टीम इंडिया के पास स्पिन गेंदबाजी के कई विकल्प है: भरत अरुण

अभिमन्यु मिथुन विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में और कर्नाटक की ओर से लिस्ट ए (List A) में हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज बन गए हैं. रणजी और विजय हजारे ट्रॉफी में हैट्रिक लेने वाले मुरली कार्तिक (Murali Kartik) के बाद वो देश के दूसरे गेंदबाज हैं.

इस तरह अभिमन्यु ने अपने 9.5 ओवर की गेंदबाजी में कुल 34 रन देकर 5 विकेट अपने नाम किए.

तमिलनाडु ने बनाए 252 रन

अभिमन्यु मिथुन की घातक गेंदबाजी के दम पर कर्नाटक ने तमिलनाडु को 252 रन पर रोक दिया. तमिलनाडु की टीम पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल पाई. दिनेश कार्तिक (Tamil Nadu) की अगुवाई वाली टीम एक गेंद बाकी रहते ऑलआउट हो गई.

संजू सैमसन को टीम इंडिया में शामिल किए जाने से खुश हैं गौतम गंभीर

तमिलनाडु की ओर से ओपनर अभिनव मुकुंद (Abhinav Mukund) ने सर्वाधिक 85 रन बनाए जबकि बाबा अपराजित (Baba Aprajith) ने 66 रन की पारी खेली.

4 टेस्ट मैच खेल चुके हैं मिथुन

अभिमन्यु मिथुन टीम इंडिया की ओर से चार टेस्ट और 5 वनडे इंटरनेशनल मैच खेल चुके हैं. टेस्ट मैचों में उनके नाम 9 जबकि वनडे में 3 विकेट दर्ज है. मिथुन ने 95 फर्स्ट क्लास मैचों में कुल 304 विकेट झटक चुके हैं.