जोहानिसबर्ग| स्थापन्न खिलाड़ी के विकेटकीपिंग करने के आईसीसी के नये नियम से भारत को उस वक्त फायदा हुआ जब चोटिल पार्थिव पटेल की जगह दिनेश कार्तिक ने आज यहां दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के चौथे दिन विकेट के पीछे खड़े हुऐ. Also Read - 'टर्निग ट्रैक पर अक्षर पटेल की तरह सीधी गेंदबाजी नहीं कर सकते ज्यादातर स्पिन गेंदबाज'

Also Read - ये 11 खिलाड़ी टीम इंडिया में बिना वापसी किए ही ले लेंगे संन्यास!

जनवरी 2010 के बाद किसी टेस्ट मैच में नहीं खेलने वाले कार्तिक ने दिन के आखिरी सत्र में विकेटकीपिंग की. पटेल तर्जनी अंगुली में चोट लगने के कारण आखिरी सत्र में मैदान में नहीं उतरे.

IPL नीलामी 2018: गेल को भी मिला खरीददार, जानिए कितने में बिका कौन खिलाड़ी, किस टीम में गया

IPL नीलामी 2018: गेल को भी मिला खरीददार, जानिए कितने में बिका कौन खिलाड़ी, किस टीम में गया

Also Read - पूर्व दक्षिणी कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा, कहा- अब से टी20 फॉर्मेट मेरी प्राथमिकता

आईसीसी का यह नया नियम पिछले साल अक्तूबर से प्रभाव में आया है जिसके तहत स्थापन्न क्षेत्ररक्षक विकेटकीपिंग कर सकता है लेकिन इसके लिये अंपायर की मंजूरी जरूरी है.

पटेल एकदिवसीय और टी20 टीम का हिस्सा नहीं हैं और आज उनकी अंगुली का एक्स-रे होगा. भारतीय टीम ने तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच 63 रन से अपने नाम कर श्रृंखला में पहली जीत दर्ज की.