नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज केन रिचर्डसन ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) पर टेस्ट को तरजीह देने का फैसला किया है और इसी कारण उन्होंने आईपीएल नीलामी में अपने आप को नहीं रखा था. रिचर्डसन ने आईपीएल नीलामी से अपने आप को दूर रखने के दो कारण बताएं हैं. इनमें से एक अप्रैल में होने वाली उनकी शादी और दूसरा ऑस्ट्रेलिया का घरेलू टूर्नामेंट शेफील्ड शील्ड है. Also Read - 'धोनी का 7वें नंबर पर उतरना समझ से परे, बाद में 3 छक्के जड़ने का क्या फायदा, ये तो उनके निजी रन थे'

Also Read - IPL 2020: एमएस धोनी की फॉर्म पर उठे सवाल तो कोच फ्लेमिंग ने दिया ये जवाब, बोले-हर साल एक ही...

वांडरर्स में विराट को मिली ‘खुशियों की चाबी’, अब दक्षिण अफ्रीका का करेंगे ‘दरवाजा बंद’ ! Also Read - IPL 2020: फील्ड अंपायर के फैसले को बदले जाने पर धोनी ने जताई नाराजगी, जानिए पूरी डिटेल

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने रिचर्डसन के हवाले से लिखा है, “आर्थिक पहलू को देखते हुए यह मुश्किल फैसला था. बहुत लोग ऐसा नहीं करते हैं. मैंने आईपीएल में खेला है और धन भी कमाया है. मैं अभी 27 साल का हूं. उम्मीद है कि मैं आने वाले समय में वहां पहुंचूंगा.”

Video: चौथे वनडे से पहले टीम इंडिया ने बहाया पसीना, अनोखे अंदाज में दिखे पांड्या

रिचर्डसन ने आईपीएल की शुरुआत 2013 में पुणे वॉरियर्स के साथ की थी और फिर वह राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर में गए थे. उन्होंने कहा, “मैंने शील्ड टूर्नामेंट खेलने का लक्ष्य बनाया है और मुझे लगता है कि अगर शील्ड क्रिकेट में मैं सात मैच खेलता हूं तो इसके बाद मेरे शरीर को आराम की जरूरत होगी.” रिचर्डसन ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 15 वनडे और पांच टी-20 मैच खेले हैं, लेकिन उन्होंने अभी तक टेस्ट मैच नहीं खेला है. उन्होंने कहा, “मुझे अभी टेस्ट क्रिकेट खेलनी हैं. यह मेरा अभी लक्ष्य है.”