इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) का कहना है कि कोविड-19 महामारी के कारण मिले अनचाहे ब्रेक से खिलाड़ियों का करियर बढ़ सकता है. कोरोनावायरस के कारण पिछले दो महीनों से खेल की लगभग सभी गतिविधियां ठप्प है. ऐसे में पीटरसन को लगता है कि इस ब्रेक का फायदा कई खिलाड़ियों को मिल सकता है.Also Read - ICC Under 19 World Cup 2022 पर कोविड का साया; कनाडा के नौ खिलाड़ियों के पॉजिटिव आने पर दो प्लेट मैच रद्द

पीटरसन ने सोशल मीडिया टिवटर पर ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मुझे लगता है कि इस मजबूरी के ब्रेक के कारण न जाने कितने महिला एवं पुरुष खिलाड़ियों के करियर बढ़ गए हैं. दबाव से मानसिक छुट्टी उन्हें खेल से दोबारा प्यार करने में उनकी मदद करेगी और यह देखना दिलचस्प होगा.’ Also Read - Coronavirus in India: पिछले 24 घंटों में COVID-19 के 2.35 लाख नए मामले, 3.35 लाख लोग हुए रिकवर


कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (IPL2020) का 13वां एडिशन अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया गया है जबकि ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में आयोजित होने वाले आईसीसी टी-20 विश्व कप के आयोजन पर भी खतरा मंडरा रहा है. Also Read - Haryana में कोरोना पाबंदियों में ढील, 50 फीसदी क्षमता के साथ खुलेंगे सिनेमाघर-मल्टीप्लेक्स; स्कूलों को लेकर यह हुआ फैसला

कोरोना के कारण इस समय पूरी दुनिया परेशान है. भारत सहित कई देशों में वर्तमान में लॉकडाउन घोषित है. खिलाड़ी भी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं.