भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को ऐलान किया कि अब से प्रतिष्ठित खेल रत्न अवार्ड को पूर्व दिग्गज हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद (Major Dhyan Chand) के नाम से जाना जाएगा। प्रधानंत्री ने कहा कि नागरिकों की भावनाओं का सम्मान करते हुए खेल रत्न पुरस्कार को अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार कहा जाएगा।Also Read - Ravi Shastri नहीं चाहते थे Virat Kohli रहें कप्तान, T20 समेत इस फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने को कहा!

ध्यानचंद हॉकी के महान खिलाड़ी रहे हैं। उनके जन्मदिन 29 अगस्त को खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है। साथ ही खेल पुरस्कारों के तहत ध्यानचंद अवार्ड भी दिया जाता है। Also Read - अमेरिका में कोविड-19 सम्मेलन: PM मोदी ने कहा- भारत में 20 करोड़ लोगों का पूरी तरह टीकाकरण हुआ, दुनिया की मदद भी की

बता दें कि अब तक खेल रत्न अवार्ड पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) के नाम पर ‘राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार’ कहा जाता था लेकिन अब से इसे ‘मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार’ कहा जाएगा। Also Read - टीम इंडिया के 2021-22 के सीजन शेड्यूल का ऐलान; न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होगी सीरीज

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “मुझे भारत भर के नागरिकों से खेल रत्न पुरस्कार का नाम मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखने के लिए कई अनुरोध प्राप्त हो रहे हैं। मैं उनके विचारों के लिए उनका धन्यवाद करता हूं। उनकी भावना का सम्मान करते हुए, खेल रत्न पुरस्कार को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार कहा जाएगा!”

उन्होंने लिखा, “मेजर ध्यानचंद भारत के उन अग्रणी खिलाड़ियों में से थे जिन्होंने भारत के लिए सम्मान और गौरव कमाया। ये सही है कि हमारे देश का सर्वोच्च खेल सम्मान उन्हीं के नाम पर रखा जाएगा।”