भारत के स्टार शटलर और पूर्व वर्ल्ड नंबर 1 खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) भी थाईलैंड ओपन से बाहर हो गए हैं. उन्होंने पिंडली (काफ) की मांसपेशियों में खिंचाव आने के चलते टूर्नामेंट से अपना नाम वापस ले लिया. इस स्टार खिलाड़ी को पुरुष एकल में गुरुवार को अपने दूसरे दौर के मुकाबले में 8वीं वरीयता प्राप्त मलेशिया के ली जी जिया के खिलाफ कोर्ट पर उतरना था.Also Read - India Open 2022: बैडमिंटन टूर्नामेंट में कोरोना का प्रवेश, किदांबी श्रीकांत-अश्विनी पोनप्‍पा सहित 7 हुए संक्रमित

वर्तमान में वर्ल्ड रैंकिंग में 14वें स्थान पर मौजूद श्रीकांत ने मैच से पहले ही जिया को वॉकओवर दे दिया और इसी के साथ इस मलेशियाई खिलाड़ी ने अगले दौर में एंट्री कर ली. भारत की ओर से पुरुष एकल में श्रीकांत भी इकलौती उम्मीद बचे थे. उनके टूर्नामेंट से हटते ही भारतीय चुनौती खत्म हो गई. भारतीय बैडमिंटन संघ (BAI) ने अपने टिवटर पर कहा है कि दाएं पैर की पिंडली में खिंचाव होने के कारण श्रीकांत अपने मुकाबले से हट गए हैं. Also Read - भारतीय बैंडमिंटन खिलाड़ियों के लिए ऐतिहासिक रहा 2021; सिंधू ने जीता ओलंपिक मेडल, विश्व चैंपियनशिप में चमके श्रीकांत

Also Read - विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप फाइनल में हार के बाद इंडिया ओपन में एक बार फिर लोह कीन यू से भिड़ेंगे श्रीकांत

इससे पहले बुधवार को उन्होंने अपने पहले दौर के मैच में हमवतन सौरभ वर्मा को हराया था. श्रीकांत ने 31 मिनट तक चले मुकाबले में वर्ल्ड नंबर 30 सौरभ को 21-12, 21-11 से हराकर दूसरे राउंड में एंट्री की थी. भारत की ओर से इस पुरुष एकल में यहां श्रीकांत और सौरभ वर्मा के अलावा पारुपल्ली कश्यप और समीर वर्मा भी चुनौती पेश करने उतरे थे. लेकिन कश्यप को भी मांसपेशी में खिंचाव के कारण अपना मैज बीच में छोड़ना पड़ा.

अपने पहले दौर के मैच में कश्यप अपने प्रतिद्वंद्वी कनाडा के एंथॉनी हो शुए के खिलाफ पहला गेम 9-21 से हार गए थे. लेकिन दूसरे गेम में उन्होंने वापसी करते हुए 21-13 से जीत दर्ज की और मैच के तीसरे और निर्णायक गेम में शुए से वह 14-8 से आगे थे, लेकिन चोट के कारण उन्हें भी मैच बीच में छोड़ना पड़ा. इसके अलावा समीर वर्मा को अपने मैच में हार का सामना करना पड़ा.