हैदराबाद टी20 मैच में 208 रनों की शानदार स्कोर बनाने के बावजूद वेस्टइंडीज टीम को भारत के खिलाफ 6 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा। मेहमान टीम की हार की वजह से रही कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की 94 रन की करियर-बेस्ट पारी। हालांकि विंडीज कप्तान कीरोन पोलार्ड (Kieron Pollard) ने खराब गेंदबाजी और अतिरिक्त रनों को हार का विलेन बताया।

मैच के बाद प्रेसेंटेशन के दौरान पोलार्ड ने कहा, “आप 10 में से 10 बार 208 रन के लक्ष्य का बचा सकते हैं, हम आज का मैच अतिरिक्त रन देने और गेंदबाजी की वजह से हारे। हमने अपनी योजना के गलत तरीके से लागू किया। अगर हमने वैसा ही किया होता जैसी योजना बनाई थी, तो अच्छी बैटिंग विकेट होने के बावजूद नतीजा कुछ अलग होता।”

कप्तान ने आगे कहा, “किसी भी मैच में दो एरिया होते हैं, बल्ले के साथ लड़कों ने शानदार प्रदर्शन किया। इस मैच में कई सकारात्मक चीजें थी। हेटमेयर और लुईस फिर से फॉर्म में आए जो कि काफी अच्छा था लेकिन हमें ऑलराउंड सही प्रदर्शन करना था।”

केवल एक फॉर्मेट का स्पेशलिस्ट बल्लेबाज नहीं बनना चाहता : विराट कोहली

पोलार्ड जो कि हैदराबाद टी20 में पांचवें नंबर पर बल्लेबाज करने आए थे, उन्होंने युजवेंद्र चहल की गेंद पर बोल्ड होने से पहले 19 गेंदो पर 37 रन बनाए।

अपनी पारी को लेकर इस खिलाड़ी ने कहा, “एक कप्तान के तौर पर मुझे बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आने का विचार आया और दबाव भरे हालात में, खुद को आगे करना जरूरी है। अपनी टीम के लिए प्रदर्शन करना और उन्हें सीमारेखा के पार ले जाना किसी भी दिन अच्छा होता है।”