भारतीय टीम के स्‍टार बल्‍लेबाज रहे सुनील गावस्‍कर (Sunil Gavaskar) टेस्‍ट में सबसे पहले 10 हजार रन बनाने वाले खिलाड़ी बने. उन्‍होंने 125 टेस्‍ट मैच में 34 शतक भी लगाए. हालांकि इसके बावजूद पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज किरन मोरे (Kiran More) का मानना है नेट्स में सुनील गावस्‍कर से खराब खिलाड़ी दूसरा कोइ और नहीं है.Also Read - IND vs SL: Hardik Pandya का फ्लॉप शो जारी, टि्वटर पर भड़के फैन्स, बोले- गरीबों का बेन स्टोक्स

किरन मोरे ने कहा, नेट्स में मैंने जिन भी क्रिकेटर्स का सामना किया उनमें सबसे बुरे सुनील गावस्‍कर ही थे. उन्‍हें अक्‍सर नेट्स में प्रैक्टिस करना पसंद ही नहीं था.” Also Read - Suresh Raina के बाद Ravindra Jadeja ने भी छेड़ा जातीय राग, बोले- Rajput Boy फिर हुए ट्रोल

“जब आप उन्‍हें नेट्स में प्रैक्टिस करते देखते हैं और फिर मैदान पर मैच के दौरान देखते हैं तो दोनों में 99.9 प्रतिशत का अंतर होता है. वहीं, जब वो नेट्स में प्रैक्टिस कर रहे होते हैं तो आपको ऐसा लगता है कि वो कैसे रन बनाएंगे. अगले दिन मैच में उन्‍हें खेलते हुए देखकर लगता है कि वॉव, ये क्‍या शानदार खिलाड़ी है.” Also Read - IND vs SL- MS Dhoni से सीखी है टारगेट का पीछा करने की कला: Deepak Chahar

उन्‍होंने कहा, सुनील गावस्‍कर (Sunil Gavaskar) के पास भगवान का दिया सबसे अच्‍छा गिफ्ट उनका फोकस है. जिस तरह का फोकस उनके पास है वो सच में काफी शानदार है. जब भी वो अपने जोन में होते हैं तो कोई भी उनके करीब नहीं होता और ऐसे वक्‍त में वो आपकी भी नहीं सुनेंगे.”