बेंगलुरुः केंद्रीय खेल मंत्री कीरेन रिजिजू ने शुक्रवार को उम्मीद जताई कि भारतीय खिलाड़ी तोक्यो में अगले साल होने वाले ओलंपिक खेलों में अब तक का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे. रिजिजू ने अंजू बाबी जार्ज अकादमी में पत्रकारों से कहा, ‘‘ओलंपिक के लिये तैयारियां अच्छी हैं और हमें उम्मीद है कि हम ओलंपिक में अब तक का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे.’’

मुझे नहीं लगता कि कोई भारतीय ओलंपिक में एथलेटिक्स में पदक जीत पाएगा : मिल्खा

मंत्री ने घोषणा की कि सरकार अकादमी को पांच करोड़ रूपये देगी. रिजिजू ने कहा कि ओलंपिक दस महीनें बाद होने हैं और अब अतिरिक्त खिलाड़ियों या प्रतिभाओं को तैयार करना मुश्किल है. उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए हमारे अभी जो मजबूत पक्ष हैं, हमें उनका सर्वश्रेष्ठ उपयोग करना होगा.’’ उन्होंने कहा कि अब हमारी यही कोशिश है कि हम पूरा ध्यान दें कि किस तरह से ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें.

डीडीसीए के निदेशकों ने की थी संघ की शिकायत, अब अध्यक्ष रजत शर्मा से मांग रहे हैं जवाब

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले खेल मंत्री ने विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले मुक्केबाज अमित पंघाल और मनीष कौशिक को सम्मानित किया. इस दौरान रिजिजू ने रजत पदक विजेता पंघल को 14 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेता मनीष कौशिक को आठ लाख रुपये का चेक भी प्रदान किया था.

लांस क्‍लूजनर बने अफगानिस्‍तान की टीम के नए मुख्‍य कोच

इस मौके पर उन्होंने कहा था कि, “यह ओलंपिक वर्ष है और ये पदक इस बात का संकेत हैं कि भारत वास्तव में तोक्यो ओलंपिक-2020 में एक अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार है. मैं सभी खेलों के एथलीटों को आश्वासन देना चाहता हूं कि तोक्यो ओलंपिक की तैयारी के लिए हम उन्हें सभी तरह का समर्थन देंगे.”