देहरादून: केंद्रीय युवा एवं खेल राज्य मंत्री किरेन रीजीजू ने गुरुवार को कहा कि 2028 तक भारत को खेलों में शीर्ष 10 में लाने का प्रयास किया जा रहा है. अल्मोड़ा स्थित उदयशंकर नृत्य एवं संगीत अकादमी में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ उत्तराखंड राज्य स्थापना समारोह के अंतर्गत आयोजित युवा सम्मेलन कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद रीजीजू ने कहा कि खेल में सबसे अच्छा करना तथा खेलो इंडिया के तहत खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने का हमारा लक्ष्य है. उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को और बेहतर बनाना है. मंत्री ने कहा कि वह हर खिलाड़ी से व्यक्तिगत रूप से मिलते हैं. उन्होंने कहा कि हम हर खिलाड़ी की खुराक की जरूरतों को पूरा करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि किसी भी खेल की सफलता ट्रेनिंग से जुड़ी है.

IPL 2020: दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने 1 करोड़ और ऑलराउंडर खिलाड़ी के बदले रविचंद्रन अश्विन को खरीदा

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ओलंपिक में हमारा झंडा लहराएगा. रीजीजू ने कहा कि अगर कोई खिलाड़ी देश के लिए खेला है और बीमार है तो उसकी जिम्मेदारी सरकार उठा रही है . इस संबंध में उन्होंने कहा कि ऐसे खिलाड़ियों के लिये हमने कोष रखा है. उन्होंने कहा कि अगर कोई हमसे नहीं मिल सकता तो वह सोशल मीडिया पर उन्हें टैग कर दे तो उसका खर्चा सरकार उठाएगी.

इस मौके पर मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि दक्षता व विश्वसनीयता उत्तराखंड के युवाओं की विशेषता है और उनमें केवल उद्यमिता का गुण विकसित करने की जरूरत है. युवाओं को देश का कल बताते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी शक्ति को पहचानना होगा और नई सोच के साथ आगे बढ़ना चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं की आकांक्षाओं को जानकर उसके अनुसार बजट तय करने व योजनाओं को बनाये जाने की सरकार की योजना है.

रोहित ने 100वें टी20 में जड़ा धमाकेदार अर्धशतक, भारत को सीरीज में कराई 1-1 से बराबरी

उन्होंने विमानन तथा साहसिक पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार की संभावनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि उत्तराखंड में साहसिक पर्यटन का अलग निदेशालय बनाया जा रहा है . इस संबंध में उन्होंने वैकल्पिक खेती, इंडस्ट्रीयल हैंप की खेती पर भी जोर दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज उत्तराखण्ड फिल्म शूटिंग के बेस्ट डेस्टीनेशन के तौर पर उभर रहा है जिससे यहां की अर्थव्यवस्था को भी फायदा होता है.