कोरोना वायरस के कारण पिछले दो महीने से दुनिया भर में खेल की सभी गतिविधियां लगभग बंद है. भारत सहित कई देशों ने गाइडलांस के साथ लॉकडाउन में छूट देना शुरू कर दिया है. केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रीजीजू का कहना है कि देश को कुछ महीनों में खेल प्रतियोगिताओं की मेजबानी के लिए तैयार हो जाना चाहिए और सरकार चाहती है कि सिर्फ टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना (टॉप्स) में शामिल खिलाड़ी ही नहीं बल्कि सभी खिलाड़ी जल्द से जल्द दोबारा ट्रेनिंग शुरू करें. Also Read - BJP ने हदें पार कर दीं, हम जीवन बचाने में लगे हैं और वे सरकार गिराने में: CM गहलोत

खेल गतिविधियों को दोबारा शुरू करने को लेकर भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ने मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार की है. Also Read - प्रशांत किशोर का नीतीश कुमार पर हमला, यह वक्त कोरोना से लड़ने का है, चुनाव का नहीं

‘हम कुछ महीनों में प्रतियोगिताओं की मेजाबानी के लिए तैयार हो जाएंगे’ Also Read - Corona virus in Rajasthan Update: राजस्थान में नहीं थम रही है कोरोना से संक्रमित होने वालों की संख्या, 170 नए मामले, इतने लोगों की गई जान

रीजीजू ने भारतीय टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा के साथ इंस्टाग्राम चैट के दौरान कहा, ‘मैं चाहता हूं कि खेल गतिविधियां जल्द से जल्द शुरू हों. मैं उम्मीद कर रहा हूं कि अगले कुछ महीनों में हम कुछ प्रतियोगिताओं की मेजबानी के लिए तैयार हो जाएंगे.’

रीजीजू ने हालांकि कहा कि खिलाड़ियों का स्वास्थ्य और सुरक्षा उनकी शीर्ष प्राथमिकता रहेंगे. उन्होंने कहा, ‘इसे ध्यान में रखते हुए खेलों को जल्द से जल्द दोबारा शुरू करने के लिए बेहतर माहौल तैयार करने के पक्ष में हूं. इस महामारी ने हमारे लिए बड़ी बाधा खड़ी की है.’

2028 मिशन ओलंपिक में हम टॉप 10 में शामिल होंगे 

रीजीजू ने कहा कि खेल उद्योग से बहुत लोगों को नौकरी मिलती है और वह चाहते हैं कि यह उद्योग खूब फले-फूले.’ रीजीजू ने अपने 2028 मिशन ओलंपिक के संदर्भ में बात की और उम्मीद जताई कि भार लॉस एंजिलिस में शीर्ष 10 में शामिल होगा.

उन्होंने कहा, ‘2024 खेला हमारा आधा लक्ष्य है लेकिन हमारा दीर्घकालीन लक्ष्य 2028 खेल हैं. जब मैं खेल मंत्री बना था तो मेरे पास बेहद सीमित प्रतिभा और संभावित ओलंपिक पदक विजेता था.

खेल मंत्री ने कहा, ‘2024 में हमारे पास सक्षम टीम होगी जो हमें अधिकतम पदक दिला सकती है. लेकिन 2028 में मेरे दिमाग में स्पष्ट है कि हम शीर्ष 10 में शामिल होंगे. और मैं यह ऐसे ही नहीं कह रहा हूं, इसके लिए हमारी तैयारी शुरू हो गई है.’

उन्होंने कहा, ‘जूनियर खिलाड़ी हमारे भविष्य के चैंपियन हैं, हमारे मजबूत तरीके से अपनी तैयारी शुरू कर दी है. हमें 2024 में नतीजे दिखेंगे और हम तेजी से प्रगति करेंगे.’

रीजीजू ने कहा, ‘आप मेरे शब्द लिख लीजिए, भारत 2020 में शीर्ष 10 में होगा. हम अनुकूल माहौल तैयार कर रहे हैं और सहयोगी स्टाफ ला रहे हैं.’