पाकिस्‍तान जाकर कबड्डी टूर्नामेंट में भाग लेने वाले भारतीय दल के खिलाफ जल्‍द ही जांच की जाएगी. खेल मंत्री किरण रिजिजू ने इसकी जानकारी दी. रिजिजू ने साफ किया कि कोई भी व्‍यक्ति या दल भारत के नाम का इस्‍तेमाल कर नहीं खेल सकता है. कबड्डी महासंघ को इस पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए गए हैं. Also Read - कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में उतरे अख्तर, कहा 'हिंदु या मुस्लिम नहीं, इंसान बनने का समय है'

किरन रिजिजू ने कहा, “हमारी आधिकारिक कबड्डी टीम पाकिस्तान नहीं गई है. हमें नहीं पता कौन वहां गया है. भारत के नाम पर कोई भी अनाधिकारिक टीम कहीं भी जाकर खेले, यह सही नहीं हैं. हमने कोई आधिकारिक टीम नहीं भेजी है.” Also Read - फिलहाल ओलंपिक का मुद्दा ना उठाएं खिलाड़ी: खेल मंत्री किरिन रिजिजू

पढ़ें:- ICC T20I Ranking: विराट कोहली को हुआ नुकसान, केएल राहुल-रोहित शर्मा टॉप-15 में बरकरार Also Read - खेल मंत्री किरण रिजिजू ने किया स्‍पष्‍ट, 15 अप्रैल के बाद ही IPL आयोजन पर होगा फैसला

खेल मंत्री ने कहा, “हम कबड्डी महासंघ से इसकी जांच शुरू करने को कहेंगे और उन लोगों की पहचान करने को कहेंगे जो लोग वहां पर गए और उन्होंने बिना इजाजत लिए ही भारत के नाम का इस्तेमाल किया. किसी भी मान्यता प्राप्त टूर्नामेंट में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए खेल और राष्ट्रीय महासंघों से मंजूरी लेना अनिवार्य है.”

पढ़ें:- फाफ डु प्‍लेसिस को कप्‍तानी छोड़ने का मिला इनाम, टी20 टीम में किया गया शामिल

भारत की अनाधिकारिक कबड्डी टीम को रविवार को लाहौर में फाइनल में पाकिस्तान से हार का सामना करना पड़ा था. इस बीच,  अनाधिकारिक टीम के प्रमोटर देविंदर सिंह बाजवा ने पाकिस्तान से लौटने के बाद कहा, “टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए हमें किसी भी संघ से इजाजत लेने की जरूरत नहीं थी क्योंकि हम वहां व्यक्तिगत क्षमता के आधार पर गए थे.”