दो बार की इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) चैंपियन कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) ने घोषणा की है कि चक्रवात अम्फान की तबाही के बाद वह 5 हजार पेड़ लगाएगा. फ्रेंचाइजी ने साथ ही पश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री राहत कोष में योगदान की प्रतिबद्धता भी जताई.Also Read - Haryana में छूट के साथ 10 फरवरी तक बढ़ाई गईं कोरोना पाबंदियां, अब इस समय तक खुल सकेंगी दुकानें

कई दशकों के इस सबसे भीषण चक्रवात ने कोविड-19 के कारण राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच पश्चिम बंगाल में 20 मई को भारी तबाही मचाई थी. इससे लाखों लोग प्रभावित हुए थे जबकि 86 लोगों की जान गई थी. कोलकाता और इसके आसपास के हिस्सों में इस चक्रवात का अधिक असर दिखा था. Also Read - Maharashtra News: महाराष्ट्र में कब खुलेंगे पर्यटन स्थल? मंत्री आदित्य ठाकरे ने दिया बड़ा अपडेट

केकेआर के मालिकों में शामिल शाहरूख खान ने संदेश में कहा, ‘इस मुश्किल के समय में हमें मजबूत रहना चाहिए जब तक कि हम दोबारा एक साथ मुस्कुराना नहीं शुरू कर दें.’ Also Read - अच्छी खबर! दिल्ली में बीते दो हफ्तों में कोविड के एक्टिव मरीजों की संख्या में 50% से ज्यादा की कमी, बीते 24 घंटे में 7498 नए केस

उन्होंने कहा, ‘केकेआर इस मुश्किल समय में योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध है. केकेआर की ‘प्लांट ए 6’ पहल के जरिए हम स्थानीय अधिकारियों के साथ मिलकर काम करने और कोलकाता में पांच हजार पेड़ लगाने की शपथ लेते हैं.’


कोलकाता की यह फ्रेंचाइजी दूरदराज के इलाकों में प्रभावित लोगों की मदद भी करेगा. फ्रेंचाइजी ने बताया कि चक्रवात से सबसे अधिक प्रभावित चार क्षेत्रों- कोलकाता, उत्तर और दक्षिण 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर- में जरूरतमंदों को राशन और साफ-सफाई का जरूरी सामान मुहैया कराया जाएगा.