अक्सर खराब फॉर्म और फैंस की आलोचना से जूझने वाले भारतीय बल्लेबाज केएल राहुल (KL Rahul) ने हैदराबाद टी20 में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैचविनिंग अर्धशतक जड़ा। वहीं मैच के बाद राहुल ने अपने आलोचकों को भी जवाब दिया। राहुल ने कहा, “जब मैं रन बनाता हूं तो सब मुझे पसंद करते हैं, ये ऐसा ही है।

मैच प्रेसेंटेशन के दौरान राहुल ने अपनी पारी को लेकर कहा, “मैं स्ट्राइक रेट के हिसाब से अपनी पारी को प्लान नहीं करता। (पहले बल्लेबाजी करने या रनों की पीछा करने में) खास बदलाव नहीं करता। मैं विकेट को समझना चाहता था। अगर एक बार मैं सेट हो जाता तो मैं चेज कर सकता था, ये मुझे पता है। मेरी भूमिका पारी की नींव रखने की है और बाकी फिनिशिंग का काम करने के लिए हमारे पास दूसरे खिलाड़ी हैं।”

विंडीज कप्तान ने कहा- 10 में से 10 बार बचाया जा सकता है 208 रन का लक्ष्य

राहुल ने ने 40 गेंदो पर पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 62 रनों की पारी खेली। हालांकि वो मैच खत्म नहीं कर पाए और 14वें ओवर खारे पियरे की गेंद पर आउट हो गए। इस बात का राहुल को दुख है। उन्होंने कहा, “आज मैंने ये मौका गंवा दिया लेकिन मैं कोशिश करूंगा कि अगले मैच में बेहतर करूं।”

उन्होंने आगे कहा, “मुझे पता था कि पिच स्पांजी है, इसलिए मैंने चौथे विकेट की लाइन में आउटसाइड ऑफ पर शॉट खेले। टी20 क्रिकेट में आप गेंद के पीछे नहीं रह सकते। पावरप्ले के दौरान मैं गैप ढूंढता हूं, कभी कभी ये मिलता है, कभी नहीं। किसी भी फॉर्मेट में बतौर बल्लेबाज आपको रन चाहिए होते हैं, उसी से आपको आत्मविश्वास मिलता है। मुझे जिस चीज से आत्मविश्वास मिलता है वो है मैच जीतना।”