किसी भी बल्लेबाज के लिए लंबे समय तक एक ही क्रम में खेलने के बाद अचानक नए स्लॉट में बल्लेबाजी करना मुश्किल होता है लेकिन भारतीय क्रिकेटर केएल राहुल ने इस प्रक्रिया को बेहद आसान बनाया है। आमतौर पर सलामी बल्लेबाज कहे जाने वाले राहुल ने भारत के लिए हालिया सीमित ओवर फॉर्मेट सीरीज में नंबर तीन, चार और पांच पर अच्छी बल्लेबाजी करके दिखाई है। Also Read - IPL 2021 PBKS vs MI LIVE Cricket Score and Updates in Hindi: रोमांचक हुआ मैच, पंजाब को 24 बॉल में 24 रन की दरकार

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे मैच में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने के बाद दूसरे मैच में पांच नंबर पर खेलते हुए 52 गेंदो पर 80 रनों की शानदार पारी खेली। मैच के बाद राहुल ने बताया कि उन्होंने मध्य क्रम में बल्लेबाजी करने की तैयारी करने के लिए भारतीय कप्तान विराट कोहली से बात की। साथ ही उन्होंने विश्व क्रिकेट के दिग्गज बल्लेबाजों एबी डिविलियर्स, स्टीव स्मिथ और केन विलियमसन के वीडियोज भी देखे। हालांकि राहुल अब भी सलामी बल्लेबाजी को ही अपनी सबसे सही जगह मानते हैं। Also Read - IPL 2021, RCB vs RR: विराट कोहली-देवदत्त पड्डिकल ने बनाया रिकॉर्ड, IPL इतिहास में कभी ना हुआ था ऐसा

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा, “देखिए मैं हमेशा से सलामी बल्लेबाजी करता आया हूं। वो मेरी जगह है, जिसके साथ में सबसे ज्यादा सहज हूं और मुझे पता है कि पारी कैसे बनाते हैं लेकिन जब मुझे तीन,चार और पांच नंबर पर बल्लेबाजी करने का मौका मिला तो मुझे बल्लेबाजी को कला के रूप में समझने, अपनी बल्लेबाजी और काबिलियित के बारे में बहुत कुछ सीखने मिला।” Also Read - IPL 2021, PBKS vs MI Video: मुंबई इंडियंस vs पंजाब किंग्स Playing 11s, MA Chidambaram Stadium पिच रिपोर्ट, Chennai में मौसम का हाल

अलग-अलग भूमिका का जमकर लुत्फ उठा रहा हूं: केएल राहुल

अपनी तैयारी के बारे में राहुल ने कहा, “मैं कई मध्य क्रम बल्लेबाजों से बात की। मैंने कई सारे वीडियो देखे, विराट से काफी बात की। ये समझने के लिए वो पारी को कैसे बनाते हैं मैंने एबी या स्टीव स्मिथ के काफी वीडियो देखे। पारी बनाने और अलग-अलग हालात में खेलने के बारे में जानने के लिए केन विलियमसन के वीडियो देखे। एकलौती चीज जो करने की मैंने कोशिश की, वो है अलग स्थिति में कैसे बेहतर बल्लेबाजी करनी है। और अब जबकि मैंने कई अलग क्रमों पर बल्लेबाजी कर ली है, खेल को लेकर मेरी समझ बेहतर हो गई है।”