नई दिल्ली : जब प्रतिभा की बात आती है तो कोई भी लोकेश राहुल की बल्लेबाजी पर उंगली नहीं उठा सकता लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण में शुरुआती असफलता के बाद से आलोचकों ने उनकी फॉर्म पर सवाल जरूर खड़े कर दिए हैं. साथ ही ऐसा भी कहा जाने लगा था कि वह विश्व कप टीम का हिस्सा नहीं होंगे. अपने आलोचकों को हालांकि राहुल ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ 71 रनों की शानदार पारी खेल अच्छा जवाब दिया.

राहुल ने कहा कि आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में कुछ खराब मैच ज्यादा मायने नहीं रखते हैं. यह सिर्फ एक अच्छी पारी की बात है जो काफी चीजें बदल देगी. उन्होंने कहा, “एक खिलाड़ी के तौर पर यह जरूरी है कि हम अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करें. साथ ही यह भी जरूरी है कि हम वर्तमान में रहें. अगर आप अच्छा करते हैं तो आप अपने आप ही चयन की रेस में होंगे. लेकिन अगर आप चयन के बारे में सोचते हैं तो आप अपने आप पर बहुत अधिक दवाब बना लेंगे. मैं वो नहीं हूं जो विश्व कप के बारे में ज्यादा सोच रहा है. मैं सिर्फ किंग्स इलेवन पंजाब के लिए अच्छा करना चाहता हैं और आईपीएल का लुत्फ उठाना चाहता हूं.”

IPL 2019 में पहली बार 1 गेंद पर 2 खिलाड़ी हुए रनआउट, VIDEO देख होगा आश्चर्य

अपने आलोचकों और असफलताओं को लेकर खड़े किए जा रहे सवाल पर राहुल ने कहा कि वह बाहरी लोग जो कह रहे हैं उसे अपने ऊपर हावी नहीं होने देते. उन्होंने कहा, “मैं अत्यधिक दवाब के बारे कुछ नहीं जानता. अभी सिर्फ दो मैच हुए हैं इसलिए बातें मेरे पास नहीं पहुंची हैं और न ही मैं ज्यादा पढ़ता हूं. हां रन न करना और अच्छी शुरुआत न कर पाना हमेशा निराशाजनक बात होती है, लेकिन यह बड़ा टूर्नामेंट है और एक बड़ी पारी आपको वापस पटरी पर ला देगी.”

IPL 2019: धोनी की बैटिंग का रहाणे ने माना लोहा, हार के बाद गेंदबाजों के लिए कही ये बात

राजस्थान के साथ हुए मुकाबले में पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन का जोस बटलर को मैनकड़िंग आउट करना चर्चा का विषय रहा था, लेकिन राहुल ने कहा कि यह टीम क्या लिखा जा रहा है उसको ज्यादा तवज्जो नहीं देती. बकौल राहुल, “क्या लिखा जा रहा है इस पर हम ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं. हम एक नई टीम हैं और लीग का आनंद लेना चाहते हैं. हमारी टीम का माहौल काफी सकारात्मक है. हम लगातार सीखने और सुधार करने पर ध्यान दे रहे हैं.”