भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल के लिए मौजूदा न्यूजीलैंड दौरा बेहतरीन रहा. राहुल को पांच मैचों की टी20 सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज आंका गया. उन्होंने ना केवल बल्ले से धमाल मचाया बल्कि विकेट के पीछे भी बखूबी जिम्मेदारी निभाई.Also Read - IPL 2022- LSG vs RCB: बैंगलोर ने लखनऊ को मात देकर किया बाहर, रजत पाटीदार हीरो, तस्वीरों में देखें मैच की सभी खास झलकियां

न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 मैचों की सीरीज के पिछले 3 टी20 अविश्वसनीय रहे : रवि शास्त्री Also Read - IPL 2022- Rajat Patidar के शतक के दम पर RCB ने लखनऊ को किया बाहर, क्वॉलीफायर 2 में राजस्थान से भिड़ंत

राहुल ने पांचवां और अंतिम टी20 मैच जीतने के बाद कहा कि इतनी जल्दी-जल्दी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का शरीर पर असर पड़ता है. इससे उन्होंने व्यस्त कार्यक्रम को लेकर हाल में कप्तान विराट कोहली के नजरिये का समर्थन किया. Also Read - अगर आज विराट कोहली शतक ठोक दें तो उनके बुरे सीजन पर चर्चा खत्म हो जाएगी: Virender Sehwag

न्यूजीलैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में जीत के साथ श्रृंखला में 5-0 के क्लीनस्वीप के बाद राहुल ने व्यस्त कार्यक्रम के कारण उबरने का कम समय मिलने के बावजूद लगातार अच्छा प्रदर्शन करने की टीम की क्षमता पर बात की.

राहुल ने यहां अंतिम मैच में भारत की सात रन से जीत के बाद कहा, ‘हर महीने हम इतने सारे मैच खेल रहे हैं. इसका शरीर पर असर पड़ता है इसलिए हम मानसिक और शारीरिक रूप से फिट रहने और इस तरह का प्रदर्शन करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं.’

करीबी मैचों में हार से निराश कीवी बल्लेबाज ने वनडे सीरीज के लिए भरी हुंकार

टी20 विश्व कप से पहले के सकारात्मक पक्षों के बारे में पूछने पर राहुल ने कहा कि टीम बेहद दबाव वाले मैच जीतने में सफल रही है.

उन्होंने कहा, ‘हर बार हमें चुनौती मिली और दबाव में डाला गया और हम बेहद प्रतिस्पर्धी टीमों के खिलाफ खेले. हमने हमेशा धैर्य बरकरार रखा और यह सबसे सकारात्मक चीज है. इससे पहले हमने ऐसी श्रृंखला में भी खेले जिसे हमने जीता लेकिन चुनौती नहीं मिली. लेकिन पिछली कुछ श्रृंखलाएं हमारे लिए बेहद चुनौतीपूर्ण रहीं.’

राहुल स्वदेश में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के साथ राहुल विकेटकीपिंग की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी निभा रहे हैं. यह भारत का 2019-20 सत्र का अंतिम टी20 मैच था. भारत ने पिछले एक महीने में 11 मैच खेले.