भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले दो टी20 मैच जीतकर आगामी टी20 विश्व कप से पहले अपने मजबूत स्क्वाड की एक झलक दिखाई है। ऑकलैंड में खेले गए दोनों मैचों में मिली जीत से भी बढ़कर बात ये रही कि भारतीय टीम को ये जीत विराट कोहली, रोहित शर्मा ने नहीं बल्कि केएल राहुल और श्रेयस अय्यर ने दिलाई। पूर्व दिग्गज वीवीएस लक्ष्मण का भी यही मानना है।

टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने लिखा, “पहले मैच में 204 के लक्ष्य के खिलाफ अटैक करने की जरूर थी, दूसरे मैच में न्यूजीलैंड को 132 रन पर रोकने के बाद ज्यादा सधी हुई बल्लेबाजी की जरूरत थी। भारतीय टीम दोनों ही मैचों में शानदार थी, बल्लेबाजों के एक यूनिट ने ही दोनों मैचों में प्रदर्शन किया। ये भारत के लिए साधारण मैचविनर नहीं थे जो आगे आए, बल्कि भविष्य के बारे में सोचते हुए केएल राहुल, श्रेयस अय्यर इस स्तर पर आगे आए, टीम के जीत की रेखा पार कराने की जिम्मेदारी ली।”

हैमिल्टन टी20: न्यूजीलैंड ने जीता टॉस, पहले गेंदबाजी का फैसला

उन्होंने आगे लिखा, “साल 2014 में उसके टीम में इंट्री लेने के बाद से ही राहुल की प्रतिभा पर किसी को शक नहीं था। वो अपनी राह से थोड़ा भटक जरूर गया था लेकिन पिछले कुछ महीनों में, टेस्ट टीम से बाहर किए जाने के बाद से वो वापस गया और खुद पर ध्यान दिया और फिर मजबूत वापसी की, अब वो अपनी योजनाओं को लेकर ज्यादा नियंत्रण में है। दोनों मैचों में चेज के दौरान उसने अलग तरह से बल्लेबाजी की, जिसका मतलब है कि वो लय में है और एक सच्चे मैचविनर की तरह उसने काम पूरा होने से पहले विकेट फेंका नहीं।”

लक्ष्मण ने राहुल के साथ अय्यर की भी काफी तारीफ की। उन्होंने लिखा, “श्रेयस हर मैच के साथ विकसित हो रहा है और जितने आत्मविश्वास के साथ वो हवाई शॉट खेलता है, जो टीम के साथ जुड़ाव के एहसास से मिलता है। उसने अपनी स्टाइल, बल्लेबाजी शैली के दम पर नंबर-4 पर प्रभाव छोड़ा है और आखिरी दो मैचों में और बेहतर ही हुआ है।”