मुंबई: लेसिथ मलिंगा की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से मुंबई इंडियन्स ने आईपीएल 2019 के आखिरी लीग मैच में रविवार को यहां कोलकाता नाइटराइडर्स को सात विकेट पर 133 रन ही बनाने दिये. लिंगा ने 35 रन देकर तीन जबकि हार्दिक पंड्या ने 20 और जसप्रीत बुमराह ने 31 रन देकर दो . दो विकेट लिये. क्रुणाल पंड्या (चार ओवर में 14 रन) और मिशेल मैकलेनगन (चार ओवर में 19 रन) ने कसी हुई गेंदबाजी की. केकेआर के आक्रामक बल्लेबाज आंद्रे रसेल खाता भी नहीं खोल पाये. क्रिस लिन (29 गेंदों पर 41 रन) ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलायी थी लेकिन उनके अलावा केवल रोबिन उथप्पा (47 गेंदों पर 40 रन) और नितीश राणा (13 गेंदों पर 26 रन) ही दोहरे अंकों में पहुंचे. उथप्पा ने तीन छक्के लगाये लेकिन इसके अलावा वह रन बनाने के लिये संघर्ष ही करते रहे. Also Read - 'वनडे-टी20 में ऑस्ट्रेलिया को हराना आसान लेकिन टेस्ट में जीत के लिए ख्यालों से बाहर आए टीम इंडिया'

  Also Read - IPL 2021- 'इयोन मोर्गन नहीं, शुबमन गिल को कप्तान बनाए KKR'

इन दोनों टीमों के लिये यह मैच काफी महत्वपूर्ण है. केकेआर जीत पर प्लेऑफ में पहुंच जाएगा जबकि मुंबई की टीम जीत दर्ज करती है तो वह शीर्ष दो में पहुंच जाएगी और उसे फाइनल में पहुंचने के दो मौके मिलेंगे. अगर लिन की बल्लेबाजी को छोड़ दिया जाए तो मुंबई ने पहले 12 ओवरों में केकेआर को पूरी तरह से बैकफुट पर रखा. इनमें केकेआर की तरफ से चार छक्के और दो चौके लगे और ये सभी लिन के बल्ले से निकले. लिन ने मिशेल मैकलेनगन और लेसिथ मलिंगा पर छक्के लगाने के बाद स्पिनर राहुल चाहर का स्वागत दो छक्कों से किया था लेकिन उनके सभी शाट पावरप्ले के दौरान लगे थे जिसमें केकेआर का स्कोर बिना किसी नुकसान के 49 रन था. इसके बाद अगले छह ओवर में केवल 16 रन बने और इस बीच शुभमान गिल (16 गेंदों पर नौ रन) और लिन पवेलियन लौटे. हार्दिक ने नौवें ओवर में लिन को विकेट के पीछे कैच कराया.

एक समय 21 गेंदों पर केवल नौ रन बनाने वाले उथप्पा ने मलिंगा पर छक्का लगाकर केकेआर के समर्थकों में कुछ जोश भरा लेकिन इस श्रीलंकाई गेंदबाज ने इसी ओवर में पहले कार्तिक (नौ गेंदों पर तीन रन) और फिर आंद्रे रसेल (शून्य) को आउट करके मुंबई के समर्थकों को मदहोश कर दिया. मलिंगा राउंड द विकेट आकर गेंद की जो रसेल के दस्तानों को चूमकर विकेटकीपर के पास पहुंच गयी. केकेआर का स्कोर 13 ओवर के बाद चार विकेट पर 73 रन था. राणा ने हार्दिक पर दो छक्के लगाये लेकिन मलिंगा की गेंद छह रन के लिये भेजने के तुरंत बाद वह सीमा रेखा के पास कैच थमा बैठे.

उथप्पा ने बीच बीच में ही कुछ अच्छे शाट लगाये. इनमें बुमराह के दो ओवरों में लगाये दो छक्के भी शामिल हैं, लेकिन डेथ ओवरों में उनकी धीमी बल्लेबाजी केकेआर को महंगी पड़ सकती है. आखिरी दो ओवर में केवल दस रन बने. बुमराह ने अंतिम दो गेंदों पर उथप्पा और रिंकू सिंह (चार) को आउट किया.